विश्व स्वास्थ्य संगठन

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना सहित 07 अप्रैल को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

विश्व स्वास्थ्य संगठन | पंडित रविशंकर | बंगाल स्टेट प्रिजनर्स रेगुलेशन एक्ट | वाणिज्यिक उड़ान | बिहार

ब्यूरो | 07 अप्रैल 2019 | फोटो : विश्व स्वास्थ्य संगठन

1

07 अप्रैल, 1948 को संयुक्त राष्ट्र ने विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्‍ल्‍यूएचओ) की स्थापना की. यह संगठन दुनिया के देशों की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए आपसी सहयोग एवं मानक विकसित करने का दायित्व निभाता है. इस समय 194 देश डब्‍ल्‍यूएचओ के सदस्य तथा दो संबद्ध सदस्य हैं. इसका मुख्यालय स्विट्जरलैंड के जेनेवा शहर में है. दुनिया भर में इस दिन को अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस के रूप में मनाया जाता है.

2

07 अप्रैल, 1920 को भारत के प्रसिद्ध सितार वादक और संगीतज्ञ पंडित रविशंकर का जन्म हुआ. पश्चिम बंगाल में जन्में पंडित रविशंकर ने भारतीय संगीत को दुनिया भर में सम्मान दिलाया. भारत सरकार द्वारा उन्हें भारत रत्न और पद्मविभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया था. पंडित रविशंकर को तीन बार ग्रैमी पुरस्कार भी मिला था. भारतीय और पाश्चात्य संगीत के संलयन में उनकी बड़ी भूमिका मानी जाती है.

3

07 अप्रैल, 1818 को ब्रिटिश सरकार ने बिना मुकदमे के लोगों को निर्वासित करने और हिरासत में रखने वाला कानून ‘बंगाल स्टेट प्रिजनर्स रेगुलेशन एक्ट’ पेश किया. यह कानून भारत के आजाद होने तक प्रभाव में रहा था. उस समय इस कानून की काफी आलोचना हुई थी. दरअसल, पहले विश्व युद्ध के बाद अंग्रेजी हुकूमत ने राष्ट्रवादी सहानुभूति रखने वाले किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेने के लिए मनमाने ढंग से इसका इस्तेमाल किया था.

4

07 अप्रैल, 1929 को पहली वाणिज्यिक उड़ान भारत पहुंची. यह तब संभव हुआ, जब ब्रिटेन के इंपीरियल एयरवेज की लंदन-काहिरा सेवा को कराची तक बढ़ाया गया. इसी दौरान यानी 1929-30 के समय ही भारत से ब्रिटेन, फ्रांस, हालैंड और पुर्तगाल के लिए हवाई सेवाएं शुरू हुईं.

5

07 अप्रैल, 2010 को पटना की एक विशेष अदालत ने एक बड़ा फैसला सुनाया. अदालत ने में एक दिसंबर 1997 को बिहार के अरवल जिले के दो गांवों में 58 दलितों की हत्या के मामले में 16 दोषियों को फांसी और 10 को उम्र क़ैद की सज़ा सुनाई.

  • लगभग हर वेबसाइट पर मौजूद रहने वाले डार्क पैटर्न्स के बारे में आप क्या जानते हैं?

    ज्ञानकारी | तकनीक

    लगभग हर वेबसाइट पर मौजूद रहने वाले डार्क पैटर्न्स के बारे में आप क्या जानते हैं?

    ब्यूरो | 19 अक्टूबर 2021

    रियलमी नार्ज़ो 30 5जी मोबाइल फोन

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    रियलमी नार्ज़ो 30 (5जी): मनोरंजन के लिए मुफीद एक मोबाइल फोन जो जेब पर भी वजन नहीं डालता है

    ब्यूरो | 03 जुलाई 2021

    ह्यूंदेई एल्कजार

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या एल्कजार भारत में ह्यूंदेई को वह कामयाबी दे पाएगी जिसका इंतजार उसे ढाई दशक से है?

    ब्यूरो | 19 जून 2021

    वाट्सएप

    ज्ञानकारी | सोशल मीडिया

    ‘ट्रेसेबिलिटी’ क्या है और इससे वाट्सएप यूजर्स पर क्या फर्क पड़ेगा?

    ब्यूरो | 03 जून 2021