हिंदी दिवस

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

10 जनवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

विश्व हिंदी दिवस | थॉमस रो | मधुसूदन गुप्ता | जॉन मथाई | संयुक्त राष्ट्र महासभा

ब्यूरो | 10 जनवरी 2019 | फोटो: मनीषा यादव

1

10 जनवरी, 2006 को पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए इस दिन प्रति वर्ष विश्व हिंदी दिवस मनाए जाने की घोषणा की थी. विश्व में हिन्दी का विकास करने और एक अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर इसे प्रचारित-प्रसारित करने के उद्देश्य से विश्व हिंदी सम्मेलनों की शुरूआत की गई. प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन 10 जनवरी, 1975 को नागपुर में आयोजित हुआ था. इसीलिए इस तारीख को विश्व हिंदी दिवस मनाने के लिए चुना गया.

2

10 जनवरी, 1616 को ब्रिटिश राजदूत सर थॉमस रो ने अजमेर में मुगल बादशाह जहांगीर से मुलाकात की थी. थॉमस रो 1615 से 1618 तक मुगल दरबार में राजदूत रहे. इस दौरान उनका मुख्य काम सूरत में मौजूद ईस्ट इंडिया कंपनी की एक फैक्ट्री के लिए सुरक्षा हासिल करना था.

3

10 जनवरी, 1836  को प्रोफेसर मधुसूदन गुप्ता ने पहली बार मानव शरीर की आंतरिक संरचना का अध्ययन किया था. बंगाली ब्राह्मण और आयुर्वेद के जानकार गुप्ता पहले ऐसे भारतीय थे जिन्होंने वेस्टर्न मेडिसिन की पढ़ाई की और मानव शरीर को भीतर से देखा-समझा.

4

10 जनवरी, 1886 को भारत के शिक्षाविद, अर्थशास्त्री एवं न्यायविद् जॉन मथाई का जन्म हुआ था. पद्मश्री औऱ पद्मविभूषण से सम्मानित मथाई ने 1949-1950 के बीच वित्त मंत्री का पद भी संभाला.

5

10 जनवरी, 1946  को लंदन में संयुक्त राष्ट्र महासभा की पहली बैठक में 51 राष्ट्रों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया. यह बैठक लंडन के मेथोडिस्ट सेंट्रल हॉल में हुई थी.

  • रियलमी नार्ज़ो 30 5जी मोबाइल फोन

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    रियलमी नार्ज़ो 30 (5जी): मनोरंजन के लिए मुफीद एक मोबाइल फोन जो जेब पर भी वजन नहीं डालता है

    ब्यूरो | 03 जुलाई 2021

    ह्यूंदेई एल्कजार

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या एल्कजार भारत में ह्यूंदेई को वह कामयाबी दे पाएगी जिसका इंतजार उसे ढाई दशक से है?

    ब्यूरो | 19 जून 2021

    वाट्सएप

    ज्ञानकारी | सोशल मीडिया

    ‘ट्रेसेबिलिटी’ क्या है और इससे वाट्सएप यूजर्स पर क्या फर्क पड़ेगा?

    ब्यूरो | 03 जून 2021

    कोविड 19 की वजह से मरने वाले लोगों की चिताएं

    आंकड़न | कोरोना वायरस

    भारत में अब तक कोरोना वायरस की वजह से कितने लोगों की मृत्यु हुई होगी?

    ब्यूरो | 27 मई 2021