सोनिया गांधी

विचार-रिपोर्ट | बुलेटिन

सोनिया गांधी के रायबरेली से नामांकन दाखिल करने सहित आज के पांच बड़े समाचार

सोनिया गांधी | लोकसभा चुनाव | ममता बनर्जी | नमो टीवी | विकिलीक्स

ब्यूरो | 11 अप्रैल 2019 | फोटो : कांग्रेस पार्टी / ट्विटर

1

सोनिया गांधी ने रायबरेली से नामांकन दाखिल किया

कांग्रेस की अगुवाई वाले यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज उत्तर प्रदेश की रायबरेली लोक सभा सीट से नामांकन दाख़िल किया. इस दौरान उनकी बेटी प्रियंका गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी उनके साथ थे. इससे पहले सोनिया गांधी ने कहा कि भाजपा को साल 2004 को नहीं भूलना चाहिए. उन्होंने कहा कि तब अटल बिहारी वाजपेयी को अजेय कहा जा रहा था, लेकिन जीत कांग्रेस को मिली. रायबरेली में इस बार सोनिया गांधी का मुकाबला कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए दिनेश प्रताप सिंह से है. रायबरेली को कांग्रेस और ख़ास तौर पर गांधी-नेहरू परिवार का मजबूत गढ़ माना जाता है. सोनिया यहां से चार बार जीत हासिल कर चुकी हैं. यहां चुनाव के पांचवें चरण में छह मई को मतदान होना है.

2

लोकसभा चुनाव का पहला चरण खत्म, 91 सीटों के लिए वोट पड़े

लोकसभा चुनाव का पहला चरण आज खत्म हो गया. चुनाव के इस चरण में 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 91 लोकसभा सीटों के लिए वोट पड़े. इन सीटों पर कुल मिलाकर 1279 उम्मीदवार मैदान में हैं. इनमें से 83 भाजपा से हैं और इतने ही कांग्रेस से. उधर, बसपा के 33, वाईएसआर कांग्रेस के 26 और तेलुगू देशम पार्टी के 25 उम्मीदवार हैं. कुल उम्मीदवारों में नवासी यानी सिर्फ सात फीसदी महिलाएं हैं. जो उम्मीदवार मैदान में हैं उनमें नितिन गडकरी, वीके सिंह और महेश शर्मा जैसे केंद्रीय मंत्रियों के अलावा अजित सिंह, असदुद्दीन ओवैसी और हरीश रावत जैसे दिग्गज भी हैं.

3

फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने ममता बनर्जी पर 20 लाख रु का जुर्माना लगाया

सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को तगड़ा झटका दिया है. शीर्ष अदालत ने एक फिल्म पर प्रतिबंध लगाए जाने के मामले में राज्य सरकार को फटकार लगाई है. उस पर 20 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है. ‘भविष्येर भूत’ नाम की इस फिल्म को बीते फरवरी में रिलीज़ के एक दिन बाद ही सिनेमाघरों से हटा लिया गया था. आरोप लगे थे कि ये फैसला इसलिए किया गया क्योंकि इस फिल्म में तृणमूल कांग्रेस पर तंज कसा गया था. फिल्म निर्देशक अनिक दत्त का कहना था कि फिल्म को सिनेमाघरों से हटाने का आदेश ममता बनर्जी ने दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने इसे अभिव्यक्ति की आज़ादी पर हमला बताया. अदालत ने इस पर चिंता जताई कि इस तरह की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं.

4

भाजपा ने आखिरकार माना, नमो टीवी उसका

भारतीय जनता पार्टी ने आखिरकार मान लिया है कि नमो टीवी उसी का है. एक साक्षात्कार में पार्टी की आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ये बात कही. उनके मुताबिक नमो टीवी, नमो एप का ही एक फीचर है जिसे भाजपा की आईटी सेल द्वारा चलाया जाता है. कुछ दिन पहले एक साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा गया था कि नमो टीवी को कौन चला रहा है. इस पर उन्होंने इस बारे में कोई जानकारी होने से इनकार कर दिया था. इससे पहले नमो टीवी को मंजूरी देने को लेकर चुनाव आयोग ने सूचना और प्रसारण मंत्रालय को नोटिस भेजा था. इस पर मंत्रालय का कहना था कि ये एक विज्ञापन प्लेटफॉर्म है जिसके लिए सरकारी मंज़ूरी की जरूरी नहीं है.

5

ब्रिटेन : विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज गिरफ्तार

विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज को ब्रिटेन में गिरफ्तार कर लिया गया है. लंदन पुलिस ने उनको इक्वाडोर के दूतावास से हिरासत में लिया गया. जूलियन असांज ने बीते 7 साल से इस दूतावास में शरण ले रखी थी. लेकिन हाल में इक्वाडोर ने ये शरण वापस ले ली थी. उसका आरोप था कि जूलियन असांज ने राष्ट्रपति लेनिन मोरेनो की कई गोपनीय जानकारियां लीक की हैं. हालांकि इक्वाडोर ने ये भी शर्त रखी है कि विकिलीक्स के संस्थापक को किसी ऐसे देश को प्रत्यर्पित नहीं किया जाएगा जहां उन्हें प्रताड़ना या मौत की सज़ा दी जा सकती हो. जूलियन असांज अमेरिका से जुड़े कई गोपनीय दस्तावेज सार्वजनिक करने के बाद चर्चा में आये थे. उन पर 2012 में एक स्वीडिश महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. स्वीडन प्रत्यर्पित किए जाने से बचने के लिए उन्होंने इक्वाडोर के दूतावास में शरण ली थी.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 3 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 14 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020