भगत सिंह, सुखदेव. राजगुरू

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव के शहीद होने सहित 23 मार्च को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

शहीद दिवस | बसंती देवी | राम मनोहर लोहिया | पाकिस्तान | ताइवान

ब्यूरो | 23 मार्च 2019 | फोटो: विकीमीडिया कॉमन्स

1

23 मार्च, 1931 को भगत सिंह और उनके साथी राजगुरु व सुखदेव को लाहौर जेल में फांसी दी गई थी. अंग्रेजी सरकार द्वारा इन क्रांतिकारियों को यह सजा सान्डर्स की हत्या और सेंट्रल असेंबली में बम फेंकने के लिए दी गई थी.

2

23 मार्च, 1880 को भारतीय स्वतंत्रता कार्यकर्ता बसंती देवी का जन्म हुआ था. सविनय अवज्ञा आंदोलन के सबसे सक्रिय कार्यकर्ताओं में से एक बसंती देवी स्वतंत्रता सेनानी देशबंधु चितरंजन दास की पत्नी थीं.

3

23 मार्च, 1910 को स्वतंत्रता सेनानी, प्रखर चिंतक और समाजवादी राजनेता डॉ राममनोहर लोहिया का जन्म हुआ था. देश में गैर-कांग्रेसवाद की शुरूआत करने के साथ लोहिया समाजवादी आंदोलन के अगुआ भी बने.

4

23 मार्च, 1956 को पाकिस्तान दुनिया का पहला इस्लामिक गणतंत्र देश बना था. 20 करोड़ की आबादी के साथ यह दुनिया छठा सबसे अधिक आबादी वाला देश है जिसमें करीब 95 फीसदी लोग इस्लाम धर्म को मानते हैं.

5

23 मार्च, 1996 को ताइवान में पहला प्रत्यक्ष राष्ट्रपति चुनाव हुआ, जिसमें ली तेंग हुई राष्ट्रपति बने.

  • ह्यूंदेई एल्कजार

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या एल्कजार भारत में ह्यूंदेई को वह कामयाबी दे पाएगी जिसका इंतजार उसे ढाई दशक से है?

    ब्यूरो | 19 जून 2021

    वाट्सएप

    ज्ञानकारी | सोशल मीडिया

    ‘ट्रेसेबिलिटी’ क्या है और इससे वाट्सएप यूजर्स पर क्या फर्क पड़ेगा?

    ब्यूरो | 03 जून 2021

    कोविड 19 की वजह से मरने वाले लोगों की चिताएं

    आंकड़न | कोरोना वायरस

    भारत में अब तक कोरोना वायरस की वजह से कितने लोगों की मृत्यु हुई होगी?

    ब्यूरो | 27 मई 2021

    बच्चों की कोविड वैक्सीन

    विचार-रिपोर्ट | कोविड-19

    बच्चों की कोविड वैक्सीन से जुड़ी वे जरूरी बातें जिन्हें इस वक्त सभी माता-पिता जानना चाहते हैं

    ब्यूरो | 24 मई 2021