सुपरसोनिक एयरक्राफ्ट

विचार-रिपोर्ट | आतंकवाद

पाकिस्तान में आतंकी कैंपों पर भारतीय वायु सेना के हमले से जुड़ी पांच बड़ी बातें

भारतीय वायु सेना ने यह कार्रवाई जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हालिया हमले के जवाब में की है

ब्यूरो | 26 फरवरी 2019 | फोटो: फ्लिकर

1

यह कार्रवाई 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने तड़के 3.30 बजे की. खबरों के मुताबिक अंबाला से उड़े इन विमानों ने मुजफ्फराबाद, चकोटी और बालाकोट में चल रहे आतंकी कैंपों पर 1000 किलो वजनी बम गिराकर उन्हें तबाह कर दिया. मुजफ्फराबाद और चकोटी पाक अधिकृत कश्मीर में हैं जबकि बालाकोट पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत में पड़ता है. इससे साफ है कि भारतीय विमानों ने पाकिस्तानी सीमा में काफी भीतर जाकर कार्रवाई की.

2

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि इस कार्रवाई के लिए पहले सटीक खुफिया जानकारी जुटाई गई थी. जो 1000 किलो वजनी बम आतंकी कैंपों पर गिराए गए वे लेजर गाइडेड तकनीक से संचालित होते हैं. इसके तहत पहले एक लेजर बीम से लक्ष्य को लॉक किया जाता है और फिर बम छोड़ा जाता है. इससे सटीक निशाना लगाने में तो मदद मिलती ही है, नुकसान का फीडबैक भी मिल जाता है.

3

उधर, पाकिस्तान ने इस कार्रवाई की पुष्टि की है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कहा, ‘भारतीय विमानों ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से घुसपैठ की. पाकिस्तानी वायु सेना की तरफ़ से फौरन और प्रभावी कार्रवाई की गई जिसके बाद वे वापस चले गए.’ उनका यह भी दावा है कि भारतीय विमानों ने वापस जाते हुए हड़बड़ा कर कुछ बम गिराए जिसमें कोई हताहत नहीं हुआ है.’ उधर, सरकारी सूत्रों के हवाले से चल रही कुछ खबरों में कहा गया है कि इस कार्रवाई में 200 से 300 आतंकी मारे गए हैं.

4

इस हमले पर प्रतिक्रियाएं भी आने लगी हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायु सेना को बधाई देते हुए ट्वीट किया है, ‘मैं भारतीय वायुसेना के पायलटों को सलाम करता हूं.’ आम आदमी पार्टी ने भी वायु सेना को बधाई दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति के साथ बैठक की है. उधर, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने स्थिति की समीक्षा के लिए एक आपात बैठक बुलाई है.

5

भारतीय वायु सेना ने अब वायु सीमा सुरक्षा के लिहाज से हाई अलर्ट जारी कर दिया है. यह कदम पाकिस्तान की तरफ से किसी संभावित प्रतिक्रिया के मद्देनजर उठाया गया है. अलर्ट नियंत्रण रेखा और पाकिस्तान से लगती अंतररराष्ट्रीय सीमा, दोनों के पास स्थित वायु सेना के ठिकानों के लिए जारी हुआ है.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 5 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 16 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020