भारतीय सेना के जवान

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

15 जनवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

भारत और नेपाल में भूकंप | मायावती | सेना दिवस | विकीपीडिया | सबसे लंबा सूर्यग्रहण

ब्यूरो | 15 जनवरी 2019 | फोटो: फ्लिकर

1

15 जनवरी, 1934 को भारत और नेपाल ने अब तक का सबसे शक्तिशाली भूकंप झेला था. बिहार और पड़ोसी नेपाल की सीमा के पास के इलाके में आए उस भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने 8.4 थी, जिसने उत्तरी बिहार और नेपाल में भारी तबाही मचाई थी. बताया जाता है कि उस आपदा में करीब 11,000 जानें गई थी और भारी नुकसान हुआ था.

2

15 जनवरी, 1956 को दिग्गज राजनीतिज्ञ व बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती का जन्म हुआ था. मायावती दिल्ली के इंद्रपुरी की झुग्गियों में रहने वाले प्रभु दास दयाल और रामरती देवी के परिवार में पैदा हुई थीं. बाद में बसपा के संस्थापक कांशीराम की देखरेख में उन्होंने राजनीति में कदम रखा.

3

15 जनवरी, 1949 को ब्रिटिश राज की भारतीय सेना के अंतिम अंग्रेज शीर्ष कमांडर जनरल रॉय बुचर से केएम करियप्पा ने भारतीय थल सेना के पहले कमांडर-इन-चीफ का पदभार ग्रहण किया. उस दिन से 15 जनवरी को सेना दिवस के रूप में मनाया जाता है.

4

15 जनवरी, 2001 को ऑनलाइन इनसाइक्लोपीडिया विकीपीडिया लॉन्‍च किया गया था.  इसे जिमी वेल्स और लैरी सैंगर नाम के इंटरनेट प्रोजेक्ट डेवलपर्स ने बनाया था.

5

15 जनवरी, 2010 को तीन घंटे से भी अधिक की अवधि वाला शताब्दी का सबसे लंबा सूर्य ग्रहण लगा. भारत में यह 11 बजकर छह मिनट पर शुरू होकर तीन बजकर पांच मिनट पर खत्म हुआ.

  • ममता बनर्जी

    विचार-रिपोर्ट | राजनीति

    पश्चिम बंगाल में चुनाव कराने के तरीके को लेकर चुनाव आयोग की आलोचना करना कितना जायज़ है?

    ब्यूरो | 5 घंटे पहले

    किसान आंदोलन

    विचार-रिपोर्ट | किसान

    क्या किसान आंदोलन कमजोर होता जा रहा है?

    ब्यूरो | 03 मार्च 2021

    नरेंद्र मोदी स्टेडियम

    तथ्याग्रह | राजनीति

    क्या सरकार का यह दावा सही है कि नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम पहले सरदार पटेल स्टेडियम नहीं था?

    ब्यूरो | 26 फरवरी 2021

    अमित शाह

    विचार-रिपोर्ट | राजनीति

    क्या पश्चिम बंगाल में सीबीआई की कार्यवाही ने भाजपा को वह दे दिया है जिसकी उसे एक अरसे से तलाश थी?

    ब्यूरो | 24 फरवरी 2021