मधुबाला

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

मधुबाला के निधन सहित 23 फरवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

मधुबाला | एल्युमिनियम | एमएफ हुसैन | कर्मचारी भविष्य निधि कानून | स्पेन

ब्यूरो | 23 फरवरी 2019

1

23 फरवरी, 1969 को हिंदी सिनेमा की सबसे खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक मधुबाला का निधन हो गया था. महज 36 साल की जिंदगी में उन्होंने अपनी अदाकारी और खूबसूरती से ऐसा जलवा बिखेरा जो आज तक कायम है. मुगलिया शान-ओ-शौकत दिखाती ‘मुगल-ए-आजम’ हो या फिर किशोर कुमार और बंधुओं के हास्य से भरी ‘चलती का नाम गाड़ी’, मधुबाला के दिलकश और शोख अंदाज ने इन फिल्मों को यादगार बना दिया. उनकी खूबसूरती के चलते उन्हें ‘वीनस ऑफ हिंदी सिनेमा’ कहा गया.

2

23 फरवरी, 1886 को अमेरिका के आविष्कारक और रसायनशास्त्री चार्ल्स मार्टिन हेल ने एल्यूमिनियम धातु की खोज की थी. हालांकि एल्युमिनियम तत्व की खोज 1825 में ही कर ली गई थी लेकिन इसे इसके वर्तमान स्वरूप और उपयोग के लायक बनाने का काम हेल ने किया थी.

3

23 फरवरी, 2010 को कतर ने भारत के मशहूर चित्रकार एमएफ हुसैन को अपने देश की नागरिकता दी थी. ऐसा होना इसलिए भी महत्वपूर्ण था क्योंकि कतर के नागरिकता कानून बहुत ही सख्त हैं, इसके अलावा हुसैन को भारत से निर्वासित भी किया गया था.

4

23 फरवरी, 1952 को कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम पारित किया गया. इसके बाद 4 मार्च, 1952 को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन की स्थापना की गई जो आर्गैनिज्ड सेक्टर में कर्मचारियों के पीएफ, इंश्योरेंस और पेंशन योजनाओं की निगरानी करता है.

5

23 फरवरी, 1981 को स्पेन में दक्षिणपंथी सेना ने सरकार का तख्ता पलट दिया, जिससे राजनीतिक अनिश्चितता की स्थिति पैदा हो गई. इस दिन करीब दो सौ हथियारबंद सैन्य अधिकारिंयों ने प्रधानमंत्री चुने जाने की प्रक्रिया को रोककर सभी सांसदों को 18 घंटे के लिए बंदी बना लिया था.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 5 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 16 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020