एआर रहमान

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

06 जनवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

इंदिरा गांधी के हत्यारों को फांसी | भारतेंदु हरिश्चंद्र | विजय तेंदुलकर | एआर रहमान | कपिल देव

ब्यूरो | 06 जनवरी 2019 | फोटो: एआर रहमान-फेसबुक

1

06 जनवरी, 1989 को  इंदिरा गांधी की हत्या के दोषी सतवंत सिंह और केहर सिंह को दिल्ली की तिहाड़ जेल में फांसी दी गई. सतवंत सिंह और बेअंत सिंह इंदिरा गांधी के सुरक्षा कर्मी थे जिन्होंने 31 अक्टूबर, 1984 को इंदिरा गांधी के दिल्ली स्थित सरकारी आवास पर उन्हें गोली मार दी थी. बेअंत सिंह को उसी वक्त अन्य सुरक्षा कर्मियों ने मार गिराया था. इस षड्यंत्र को रचने में केहर सिंह भी शामिल था

2

06 जनवरी, 1885 को आधुनिक भारत के दिग्गज हिंदी लेखक भारतेंदु हरिश्‍चंद्र का निधन हुआ था. कविता,कहानी और नाटक लिखने के साथ-साथ हरिश्चंद्र रिपोर्टनुमा आलेख भी लिखते थे जो उस समय आम लोगों में चेतना जगाने के लिहाज से जरूरी था. इसके अलावा उन्होंने दूसरी भाषा के साहित्य का हिंदी अनुवाद भी किया.

3

06 जनवरी, 1928 को भारतीय नाटककार और रंगमंचकर्मी विजय तेंदुलकर का जन्म हुआ था. श्याम बेनेगल द्वारा रची गई ट्रिलजी की दो फिल्में मंथन और निशांत की पटकथा इन्होंने ही लिखी थी.

4

06 जनवरी, 1959 को भारतीय हरफनमौला क्रिकेटर कपिल देव का जन्‍म भी छह जनवरी को ही हुआ था. उनकी कप्तानी में 1983 में भारतीय टीम ने विश्वकप जीता था. एक सफल कप्तान के तौर पर जाने गए कपिल देव अब एक स्थापित क्रिकेट कमेंटेटर हैं.

5

06 जनवरी, 1966 को ऑस्कर विजेता भारतीय संगीतकार एआर रहमान का जन्म हुआ था. संगीत के जादूगर कहे जाने वाले रहमान छह राष्ट्रीय पुरस्कार सहित दो-दो बार ऑस्कर और ग्रैमी अवॉर्ड भी जीत चुके हैं. दक्षिण भारतीय फिल्मों के मिला दिया जाए तो उनकी झोली में कुल 32 फिल्मफेयर अवॉर्ड आ चुके हैं.

  • डॉक्टर

    विचार-रिपोर्ट | कोविड-19

    ऑक्सीजन और आईसीयू के बाद अगला महासंकट डॉक्टरों और नर्सों की कमी के रूप में सामने आ सकता है

    ब्यूरो | 05 मई 2021

    सीटी स्कैन

    ज्ञानकारी | स्वास्थ्य

    कोरोना संक्रमण होने पर सीटी स्कैन कब करवाना चाहिए?

    ब्यूरो | 04 मई 2021

    इंडिगो विमान

    विचार-रिपोर्ट | अर्थव्यवस्था

    पैसे वाले भारतीय इतनी बड़ी संख्या में देश छोड़कर क्यों जा रहे हैं?

    ब्यूरो | 27 अप्रैल 2021

    कोरोना वायरस

    विचार-रिपोर्ट | स्वास्थ्य

    ट्रिपल म्यूटेशन वाला कोरोना वायरस अपने पिछले स्वरूपों से कितना ज्यादा खतरनाक है?

    ब्यूरो | 22 अप्रैल 2021