परमाणु परीक्षण

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

27 जनवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

फ्रांस परमाणु परीक्षण | पश्चिम बंगाल बर्ड फ्लू | अंतरिक्ष संधि | चीन | ब्रिटेन

ब्यूरो | 27 जनवरी 2019 | प्रतीकात्मक फोटो (आईसीएएनडब्लू)

1

27 जनवरी 1996 को फ्रांस ने अपना छठा और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण किया था. इस बम की ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दो बरस बाद अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी ने इस बात की पुष्टि की कि दक्षिण प्रशांत में परीक्षण स्थल पर सदियों तक इस विस्फोट का विषैला प्रभाव बना रहेगा.

2

भारत के लिहाज से 27 जनवरी को सबसे बड़ी घटना पश्चिम बंगाल से जुडी है. साल 2008 में आज के दिन ही पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य के 13 जिलों में बर्ड फ्लू की बीमारी फैलने की जानकारी दी थी. बर्ड फ्लू का प्रकोप होने से बड़ी संख्या में अंडे, चूजे, मुर्गे और अन्य पोल्ट्री पक्षियों को नष्ट कर दिया गया. बीमारी की शुरूआत 16 जनवरी 2008 को बीरभूम जिले से हुई और फिर देखते देखते तकरीबन आधा राज्य इस बीमारी की चपेट में आ गया.

3

27 जनवरी, 1967 को अमेरिका और सोवियत संघ सहित 60 देशों के प्रतिनिधियों ने संयुक्त राष्ट्र की एक संधि पर हस्ताक्षर कर बाहरी अंतरिक्ष के शांतिपूर्ण इस्तेमाल का संकल्प लिया. इसके जरिए अंतरिक्ष में व्यापक तबाही वाले हथियारों को ले जाने या तैनात करने पर रोक लगाई गई.

4

27 जनवरी, 1964 को यूरोपीय देश फ्रांस ने कम्युनिस्ट पार्टी की सत्ता वाले चीन को आधिकारिक मान्यता दी. इस दौरान फ्रांस ने चीन के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने पर भी सहमति जताई.

5

27 जनवरी, 2006 को क्षयरोग के खिलाफ स्विट्जरलैंड के दावोस में विश्व आर्थिक मंच की बैठक में एक विश्वव्यापी अभियान की घोषणा की गई. इसके तहत ब्रिटेन ने भारत में इस बीमारी के नियंत्रण के लिए 7.9 करोड़ डॉलर देने का ऐलान किया.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 7 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 18 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020