डोनाल्ड ट्रंप और उपराष्ट्रपति माइक पेंस

विचार-रिपोर्ट | विदेश

क्यों अमेरिका में चल रहे गतिरोध में डोनाल्ड ट्रंप से ज्यादा विपक्ष की गलती है

अमेरिका के सरकारी दफ्तरों का कामकाज पिछले कई हफ़्तों से ठप पड़ा है और इनके कर्मचारियों को नया साल होने पर भी वेतन तक नहीं मिल पा रहा है

ब्यूरो | 11 जनवरी 2019 | फोटो : यूट्यूब / सी-स्पैन

1

मेक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों के बीच चला आ रहा गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस गतिरोध के कारण अमेरिकी संसद में धन विधेयक अटका पड़ा है. इसकी वजह से वहां के सरकारी दफ्तरों का कामकाज पिछले कई हफ़्तों से ठप पड़ा है. इनके कर्मचारियों को नया साल होने पर भी वेतन तक नहीं मिल पा रहा है.

2

डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि वे किसी ऐसे धन विधेयक पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे जिसमें मेक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने के लिए पांच अरब डॉलर की व्यवस्था न की गई हो. जबकि निचले सदन में बहुमत वाली डेमोक्रेटिक पार्टी इसके लिए मान नहीं रही है. उसका कहना है कि सीमा पर दीवार बनाना अनैतिक, महंगा और सीमा को सुरक्षित करने का एक बेहद कमजोर तरीका है.

3

इस मुद्दे पर कई जानकार डेमोक्रेटिक पार्टी के विरोध को पूरी तरह जायज नहीं ठहराते. इनका मानना है कि मेक्सिको की सीमा के जरिये जिस तरह की गैरकानूनी गतिविधियों को अंजाम दिया जाता है उसे देखते हुए यहां दीवार बनाना गलत या अनैतिक नहीं है. इसके अलावा दुनिया भर में जिस तरह से अमेरिका अपना पैसा खर्च करता है, उसे देखते हुए दीवार पर पांच अरब डॉलर खर्च करना कोई बड़ी बात नहीं है.

4

डोनाल्ड ट्रंप मेक्सिको की सीमा पर 30 फीट से भी ज्यादा ऊंची दीवार बनाने की बात कह रहे हैं जिस पर कई जगह चेकिंग पांइट्स भी बनाए जाएंगे. जबकि 2006 में बराक ओबामा और हिलेरी क्लिंटन सहित तमाम डेमोक्रटिक सांसदों ने सीमा पर केवल 18 फीट ऊंची लोहे की नुकीली बाड़ को अनुमति दी थी. अगर दोनों की तुलना करें तो ट्रंप का तरीका डेमोक्रेटिक सांसदों के तरीके से ज्यादा सुरक्षित नजर नजर आता है.

5

कई जानकार डेमोक्रेट्स के विरोध को राजनीति से प्रेरित बताते हैं. दरअसल डेमोक्रेट्स की नरम नीतियों की वजह से अमेरिका में प्रवासियों का अधिकांश वोट उन्हीं को जाता है. इसके अलावा ट्रंप जिस तरह से अपने चुनावी वादे पूरे करने में लगे हैं उसकी वजह से लाख आलोचनाओं के बाद भी उनकी अपने वोटरों पर पकड़ बनी हुई है. मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाना डोनाल्ड ट्रंप का सबसे बड़ा चुनावी वादा था. ऐसे में डेमोक्रेटिक पार्टी को लगता है कि दीवार बनने के बाद उनकी लोकप्रियता में भारी इजाफा होगा जिसका फायदा वे अगले साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में उठा लेंगे.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 8 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 19 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020