नरेंद्र मोदी

विचार-रिपोर्ट | अख़बार

आरक्षण पर मोदी सरकार के एक और अहम फैसले सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

अमर उजाला | हिंदुस्तान | टाइम्स ऑफ इंडिया | नवभारत टाइम्स | दैनिक जागरण

ब्यूरो | 01 मार्च 2019 | फोटो: नरेंद्रमोदी.इन

1

उत्तर प्रदेश : महिला दरोगा पद के लिए आरक्षित 300 में से 295 पदों के लिए योग्य उम्मीदवार नहीं मिलीं

उत्तर प्रदेश के पुलिस विभाग को दरोगा पद के लिए योग्य उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे हैं. अमर उजाला की खबर की मानें तो पुलिस भर्ती और प्रोन्नति बोर्ड ने उप-निरीक्षक (दरोगा) सीधी भर्ती-2016 परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए हैं. इनके मुताबिक कुल 3,307 आरक्षित पदों के लिए आवेदन जारी किया गया था. लेकिन बोर्ड को केवल 2,485 योग्य उम्मीदवार ही मिल पाए. बताया जाता है कि इन पदों के लिए छह लाख से अधिक उम्मीदवारों ने आवेदन किया था. वहीं, महिला वर्ग में कुल 600 पदों में से आधी सीटों पर ही योग्य उम्मीदवार मिलने की खबर है. इनमें से 300 सीटें आरक्षित थीं. लेकिन, इन 300 में से केवल पिछड़ा वर्ग की पांच महिलाएं ही बोर्ड को चयन योग्य मिलीं.

2

दिल्ली : 77 फीसदी अतिथि शिक्षक अपनी योग्यता परीक्षा में फेल

दिल्ली स्थित सरकारी स्कूलों के अतिथि (गेस्ट) शिक्षक अपनी ही परीक्षा में फेल हो गए हैं. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक इन स्कूलों में पढ़ा रहे गेस्ट शिक्षकों में से 77.5 फीसदी भर्ती परीक्षा में न्यूनतम अंक भी हासिल नहीं कर पाए हैं. इसकी जानकारी दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (डीएसएसएसबी) ने हाई कोर्ट को दी है. बोर्ड की मानें तो इस परीक्षा में कुल 21,135 शिक्षक बैठे थे लेकिन, केवल 4,752 ही इसे पास कर पाए. वहीं, दिल्ली सरकार ने अदालत से इनकी सेवा अगले छह महीने के लिए बढ़ाने की अपील की है. दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले की अगली सुनवाई की तारीख चार मार्च तय की है.

3

चुनाव 2019 : अकाली दल और भाजपा के बीच सीटों का बंटवारा तय

पंजाब में शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) और भाजपा इस साल होने वाले आम चुनाव में 2014 के फॉर्मूले के तहत ही अपने-अपने उम्मीदवार उतारेंगी. द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस बात की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट किया, ‘एसएडी-भाजपा गठबंधन 2019 का लोक सभा चुनाव एक लाथ लड़ेगी. साल 2014 की तरह अकाली दल 10 सीटों और भाजपा तीन सीटों पर चुनाव लड़ेगी.’ उन्होंने इस बात का एलान अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के साथ बातचीत के बाद किया. इससे पहले भाजपा बिहार, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में अपने सहयोगी दलों के साथ सीट बंटवारे का फॉर्मूला तय कर चुकी है.

4

अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वाले जम्मू-कश्मीर के लोगों को भी आरक्षण का फायदा

केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वालों के लिए बड़ा एलान किया है. नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक केंद्रीय कैबिनेट ने राज्य में मौजूदा आरक्षण व्यवस्था में बदलाव करने के लिए अधिसूचना जारी की है. इसके तहत अब नियंत्रण रेखा पर रहने वाले लोगों के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रहने वाले लोगों को भी आरक्षण का फायदा मिलेगा. इसे अध्यादेश के जरिए लागू करने की बात कही गई है. केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि यह फैसला संविधान के अनुच्छेद 35-ए या 370 के मौजूदा स्वरूप में कोई बदलाव नहीं करता है.

5

सरकार की मंजूरी के बिना भी कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ राजद्रोह के मामले की सुनवाई

दिल्ली स्थित पटियाला हाउस कोर्ट ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और अन्य के खिलाफ राजद्रोह मामले में मुकदमा चलाने के लिए अब तक सरकार की मंजूरी न मिलने पर नाराजगी जाहिर की है. दैनिक जागरण के मुताबिक अदालत ने कहा है कि यदि केजरीवाल सरकार इस मामले में मंजूरी नहीं देती है तो भी इसकी सुनवाई शुरू की जाएगी. निचली अदालत ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, ‘आपने (दिल्ली पुलिस) ने आरोपपत्र दाखिल करने में तीन साल लगा दिए और अब सरकार भी मंजूरी देने में तीन साल का समय लेगी.’ अदालत ने इस मामले की सुनवाई के लिए 11 मार्च की तारीख तय की है. इससे पहले दिल्ली पुलिस ने 1,200 पन्नों का आरोपपत्र अदालत में दाखिल किया था.

  • नरेंद्र मोदी स्टेडियम

    तथ्याग्रह | राजनीति

    क्या सरकार का यह दावा सही है कि नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम पहले सरदार पटेल स्टेडियम नहीं था?

    ब्यूरो | 26 फरवरी 2021

    अमित शाह

    विचार-रिपोर्ट | राजनीति

    क्या पश्चिम बंगाल में सीबीआई की कार्यवाही ने भाजपा को वह दे दिया है जिसकी उसे एक अरसे से तलाश थी?

    ब्यूरो | 24 फरवरी 2021

    किरण बेदी

    विचार-रिपोर्ट | राजनीति

    जब किरण बेदी पुडुचेरी में कांग्रेस की सबसे बड़ी परेशानी बनी हुई थीं तो उन्हें हटाया क्यों गया?

    अभय शर्मा | 19 फरवरी 2021

    एलन मस्क टेस्ला

    विचार-रिपोर्ट | अर्थव्यवस्था

    जिस बिटकॉइन को प्रतिबंधित करने की मांग हो रही है, उस पर टेस्ला ने दांव क्यों लगाया है?

    ब्यूरो | 18 फरवरी 2021