सुपरसोनिक एयरक्राफ्ट

विचार-रिपोर्ट | अख़बार

बालाकोट हमले पर वायु सेना के अहम बयान सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

द हिंदू | द ट्रिब्यून | अमर उजाला | हिंदुस्तान | दैनिक जागरण

ब्यूरो | 05 मार्च 2019 | फोटो: फ्लिकर

1

पश्चिम बंगाल : कांग्रेस और सीपीएम के बीच आपसी रणनीतिक सहमति नहीं

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और सीपीएम के बीच चुनाव को लेकर कोई रणनीतिक साझेदारी नहीं बन पाई है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2014 के चुनाव में कांग्रेस ने 42 में से कुल चार सीटों पर कब्जा किया था. वहीं, सीपीएम के लिए यह आंकड़ा केवल दो था. बताया जाता है कि सीपीएम ने कांग्रेस को प्रस्ताव दिया था कि इन सभी छह सीटों पर एक-दूसरे के खिलाफ उम्मीदवार नहीं उतारे जाएं. लेकिन कांग्रेस ने सीपीएम की दो सीटों- रायगंज और मुर्शिदाबाद पर भी अपना दावा किया है. पार्टी का कहना है कि दोनों उनकी परंपरागत सीटें हैं. उधर, सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी का कहना है, ‘सवाल यह नहीं है कि कौन कितने वोटों से जीता. पिछले पांच वर्षों में हालात बदले हैं, इसलिए रणनीति भी बदलने की जरूरत है.’

2

वायु सेना मरे हुए आतंकियों की लाशें नहीं गिनती : बीएस धनोआ

पाकिस्तान के बालाकोट में वायु सेना की एयर स्ट्राइक पर राजनीतिक घमासान के बीच वायु सेना प्रमुख बीएस धनाेआ ने एक अहम बयान दिया. उन्होंने कहा कि वायु सेना लाशें नहीं गिनती, उसका काम सिर्फ यह देखना है कि बम निशाने पर गिरा या नहीं. इससे पहले इस हमले में मारे गए आतंकियों की संख्या को लेकर विपक्ष ने सरकार पर सवाल खड़े किए थे. द ट्रिब्यून के मुताबिक बीएस धनोआ ने कहा कि अगर काेई नुकसान नहीं हाेता ताे पाकिस्तान जवाबी कार्रवाई क्याें करता. उनके मुताबिक इस मामले में सबूत सार्वजनिक किए जाएं या नहीं, इस पर फैसला राजनीतिक नेतृत्व को लेना है.

3

हमने किसी को बाहर नहीं किया है : कुलदीप यादव

टीम इंडिया के उभरते युवा गेंदबाज कुलदीप यादव ने साफ किया है कि उन्होंने किसी को टीम से बाहर नहीं किया. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक कुलदीप से पूछा गया था कि क्या उनके और युजवेंद्र चहल के प्रदर्शन की वजह से वनडे टीम में आर अश्विन की जगह खत्म हुई है. इस पर कुलदीप ने कहा, ‘नहीं, ऐसा बिल्कुल नहीं है. हमने किसी को बाहर नहीं किया है. बात केवल इतनी सी है कि हमें मौके मिले और हमने अच्छा प्रदर्शन किया. उन्होंने भी भारत के लिए हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है. टेस्ट में अश्विन और जडेजा अभी भी खेल रहे हैं.’

4

दिल्ली हाई कोर्ट ने गुमशुदा बच्चों को लेकर बाल अधिकार संरक्षण आयोग को फटकार लगाई

दिल्ली हाई कोर्ट ने गुमशुदा बच्चों से जुड़े मामलों को गंभीरता से न लेने पर राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग को फटकार लगाई है. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक अदालत ने इन बच्चों की गुमशुदगी के मामले में आयोग की कार्रवाई को अपर्याप्त बताया है. वहीं, आयोग ने अदालत को बताया कि उसने गुमशुदा बच्चों से संबंधित 782 मामलों में पुलिस को नोटिस कर जवाब मांगा था. इस पर हाई कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की. अदालत का कहना है कि दिल्ली में एक साल में करीब 5,000 बच्चे लापता होते हैं. इस स्थिति में आयोग का यह आंकड़ा बहुत कम है..

5

जम्मू-कश्मीर : राजनीतिक दलों ने लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ करवाने की मांग की

जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों ने आयोग से राज्य में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ करवाने की मांग की है. दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक यह मांग चुनाव आयोग के जम्मू-कश्मीर दौरे के दौरान की गई. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा के नेतृत्व वाले दल के साथ बैठक के बाद नेशनल कॉन्फ्रेंस ने कहा कि राज्य में अस्थिरता और असमंजस के दौर को खत्म करने के लिए चुनाव जरूरी है. वहीं, पीडीपी ने भी कहा है कि वह चुनावों के लिए तैयार है. इनके साथ कांग्रेस ने भी दोनों चुनाव एक साथ कराने पर जोर दिया है. हालांकि, बताया जाता है कि भाजपा ने एक साथ दोनों चुनाव पर अपना रुख साफ नहीं किया.

  • निसान मैग्नाइट

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या मैगनाइट बाजार को भाएगी और निसान की नैया पार लगाएगी?

    ब्यूरो | 5 घंटे पहले

    डिएगो माराडोना

    विचार-रिपोर्ट | खेल

    डिएगो माराडोना को लियोनल मेसी से ज्यादा महान क्यों माना जाता है?

    अभय शर्मा | 15 घंटे पहले

    भारतीय पुलिस

    आंकड़न | पुलिस

    पुलिस हिरासत में होने वाली 63 फीसदी मौतें 24 घंटे के भीतर ही हो जाती हैं

    ब्यूरो | 25 नवंबर 2020

    सौरव गांगुली

    विचार-रिपोर्ट | क्रिकेट

    जिन ऑनलाइन गेम्स को गांगुली, धोनी और कोहली बढ़ावा दे रहे हैं उन्हें बैन क्यों किया जा रहा है?

    अभय शर्मा | 25 नवंबर 2020