गुरू नानक, सिख धर्म

विचार-रिपोर्ट | आज का कल

सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक के जन्म सहित 15 अप्रैल को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

गुरू नानक | फ्रांस | पाकिस्तान | बैंक | मिखाइल गोर्बाचेव

ब्यूरो | 15 अप्रैल 2019 | फोटो: विकीपीडिया

1

15 अप्रैल, 1469 को सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक का जन्म हुआ था. तलवंडी राय भोइ (अब पाकिस्तान में), जिसे अब ननकाना साहिब कहा जाता है, में बाबा मेहता कालू और माता तृप्ता के यहां उनका जन्म हुआ था. गुरु नानक ने धार्मिक सौहार्द्र को सर्वोपरि बताया और सिख धर्म की नींव रखी. वे कई भाषाओं के ज्ञाता थे और उन्होंने दुनिया के विविध स्थानों की यात्राएं की थीं.

2

15 अप्रैल, 2004 को फ्रांस में एक कानून को मंजूरी दी गई थी, जिसके तहत स्कूलों में किसी भी तरह के धार्मिक चिह्न के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई थी. यह कानून दो सितंबर, 2004 से लागू हुआ. इसमें मुस्लिम लड़कियों द्वारा सिर पर पहने जाने वाले हिजाब, सिख बच्चों की पगड़ी और ईसाई बच्चों के क्रॉस सब पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.

3

15 अप्रैल, 1981 को पाकिस्तान एयरवेज के अगवा बोईंग 720 विमान को दो सप्ताह की कोशिशों के बाद सीरिया में छुड़ा लिया गया. इस जहाज और इसमें सवार 147 लोगों को छुडाने के लिए पाकिस्तान सरकार को जेल में बंद 54 लोगों को छोड़ना पड़ा.

4

15 अप्रैल, 1980 को छह गैर-सरकारी बैंक राष्ट्रीयकृत किए गए. इससे पहले 1969 में 14 निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया था.

5

15 अप्रैल, 1990 को मिखाइल गोर्बाचेव सोवियत संघ के पहले और अंतिम राष्ट्रपति बने. सोवियत संघ में राष्ट्रपति का पद 15, मार्च 1990 को ही सृजित किया गया था.

  • रियलमी नार्ज़ो 30 5जी मोबाइल फोन

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    रियलमी नार्ज़ो 30 (5जी): मनोरंजन के लिए मुफीद एक मोबाइल फोन जो जेब पर भी वजन नहीं डालता है

    ब्यूरो | 03 जुलाई 2021

    ह्यूंदेई एल्कजार

    खरा-खोटा | ऑटोमोबाइल

    क्या एल्कजार भारत में ह्यूंदेई को वह कामयाबी दे पाएगी जिसका इंतजार उसे ढाई दशक से है?

    ब्यूरो | 19 जून 2021

    वाट्सएप

    ज्ञानकारी | सोशल मीडिया

    ‘ट्रेसेबिलिटी’ क्या है और इससे वाट्सएप यूजर्स पर क्या फर्क पड़ेगा?

    ब्यूरो | 03 जून 2021

    कोविड 19 की वजह से मरने वाले लोगों की चिताएं

    आंकड़न | कोरोना वायरस

    भारत में अब तक कोरोना वायरस की वजह से कितने लोगों की मृत्यु हुई होगी?

    ब्यूरो | 27 मई 2021