पूर्व आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल

समाचार | बुलेटिन

आज – 08 जनवरी – के पांच प्रमुख समाचार

सवर्णों को आरक्षण | सीबीआई विवाद | अयोध्या विवाद | भारतीय रिज़र्व बैंक | एमेजॉन

ब्यूरो | 08 जनवरी 2019 | फोटो: यूट्यूब

1

सवर्णों को दस फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक लोकसभा में पास

आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को केंद्र सरकार की नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में 10 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक लोकसभा में पारित हो गया है. मंगलवार को इस पर हुई वोटिंग के दौरान इसके समर्थन में 323 वोट पड़े, जबकि विरोध में महज तीन. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सोमवार को ही इस संविधान संशोधन विधेयक को मंजूरी दी थी. इससे पहले विधेयक पर चर्चा के दौरान केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस पर सभी दलों से साथ आने को कहा. उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को आरक्षण देने का वादा सभी दलों ने अपने चुनावी घोषणापत्र में किया था. लोकसभा में लोक जनशक्ति पार्टी और शिव सेना ने इस बिल का समर्थन किया. उधर, कांग्रेस ने कहा कि वो इस विधेयक का विरोध नहीं करती पर इसे संयुक्त संसदीय समिति में भेजा जाना चाहिए. इस संविधान संशोधन विधेयक को कल राज्यसभा में पेश किया जाएगा. इसके लिए ऊपरी सदन के मौजूदा सत्र की अवधि एक दिन बढ़ा दी गई है.

2

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को पद पर बहाल किया 

सीबीआई विवाद में मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है. शीर्ष अदालत ने मंगलवार को जांच एजेंसी के निदेशक आलोक वर्मा को उनके पद पर बहाल कर दिया. उसने ये फैसला आलोक वर्मा की याचिका पर ही सुनाया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आलोक वर्मा दफ्तर जाकर सामान्य कामकाज कर सकते हैं, लेकिन कोई बड़े नीतिगत फ़ैसले नहीं ले सकते. अदालत ने इस मामले को प्रधानमंत्री, विपक्ष के नेता और मुख्य न्यायाधीश की सिलेक्ट कमेटी में भेजने को कहा है. यही समिति एक हफ्ते में फैसला करेगी कि आलोक वर्मा इस पद पर बने रहें या नहीं. मोदी सरकार ने बीते साल आलोक वर्मा को जबरन छुट्‌टी पर भेज दिया था. उनके साथ जांच एजेंसी के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना को भी छुट्‌टी पर भेजा गया था. सरकार ने ये कदम इन दोनों अधिकारियों के बीच टकराव के सार्वजनिक हो जाने के बाद उठाया था. उधर, विपक्षी कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले को मोदी सरकार के लिए सबक बताया है. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि आलोक वर्मा रफाल मामले की जांच करने वाले थे इसलिए सरकार ने उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया.

3

सुप्रीम कोर्ट 10 जनवरी को अयोध्या मामले की सुनवाई करेगी

अयोध्या विवाद पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने पांच जजों की संविधान पीठ का गठन कर दिया है. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली ये पीठ दस जनवरी को इस मामले में सुनवाई करेगी. यही पीठ ये फैसला भी करेगी कि इस मामले पर नियमित सुनवाई की जाए या नहीं. 2010 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अयोध्या में विवादित जमीन के तीन हिस्से करने का आदेश दिया था. इसमें से एक हिस्सा निर्मोही अखाड़ा, दूसरा राम लला और तीसरा सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को देने के लिए कहा गया था. ये तीनों ही इस मामले में मुख्य पक्षकार हैं. तीनों ही पक्षकारों ने इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी जिसने 2011 में इस पर रोक लगा दी थी.

4

डिजिटल पेंमेंट्स की व्यवस्था को बेहतर तरीके से लागू करने के लिए एक समिति गठित

भारतीय रिजर्व बैंक ने देश में कैशलेस भुगतान को बढ़ावा देने और डिजिटल पेंमेंट्स की व्यवस्था को बेहतर तरीके से लागू करने के लिए एक समिति गठित की है. पांच सदस्यों वाली इस समिति का अध्यक्ष नंदन निलेकणी को बनाया गया है. ये समिति देश में कैशलेस भुगतान की मौजूदा स्थिति की समीक्षा करेगी. इसके साथ ही केंद्रीय बैंक ने इससे देश भर में कैशलेस भुगतान को बढ़ावा देने के उपाय सुझाने के लिए भी कहा है. ये समिति 90 दिनों के भीतर इन मुद्दों पर रिजर्व बैंक को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगी. नंदन निलेकणी को प्रतिष्ठित आईटी कंपनी इन्फोसिस के सह-संस्थापक के तौर पर पहचाना जाता है. इसके अलावा वे भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के मुखिया भी रह चुके हैं.

5

एमेजॉन पहली बार दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बनी

माइक्रोसॉफ्ट को पछाड़ कर एमेजॉन पहली बार दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है. उसका बाजार पूंजीकरण यानी मार्केट कैप 796 दशमलव आठ अरब डॉलर हो गया है जो माइक्रोसॉफ्ट से 13 दशमलव दो अरब डॉलर ज्यादा है. इसकी वजह कंपनी के बढ़ते ऑनलाइन रीटेल और क्लाउड कारोबार को बताया जा रहा है. एमेजॉन के मुखिया जेफ बेजॉस दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में भी पहले नंबर पर हैं. पिछले ही महीने माइक्रोसॉफ्ट ने सबसे बड़ी कंपनी बनने की दौड़ में एपल को पछाड़ा था. एपल बीते सात साल से इस जगह पर काबिज थी. अब वो तीसरे स्थान पर है जबकि गूगल की पेरेंट कंपनी एल्फाबेट इस सूची में चौथे पायदान पर काबिज है.

  • सहारा रेगिस्तान

    समाचार | आज का कल

    सहारा रेगिस्तान में बर्फबारी सहित 18 फरवरी को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

    ब्यूरो | 4 घंटे पहले

    मीरवाइज उमर फारुक

    समाचार | अख़बार

    कश्मीरी अगगाववादियों की सुरक्षा वापस लिए जाने सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

    ब्यूरो | 12 घंटे पहले

    नरेंद्र मोदी

    समाचार | अख़बार

    पुलवामा हमले पर सर्वदलीय बैठक सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

    ब्यूरो | 16 फरवरी 2019