योगी आदित्यनाथ

समाचार | बुलेटिन

आज – 13 जनवरी – के पांच प्रमुख समाचार

रामविलास पासवान | योगी आदित्यनाथ | तीन तलाक अध्यादेश | जिग्नेश मेवानी | अमेरिकी अर्थव्यवस्था

ब्यूरो | 13 जनवरी 2019 | फोटो: फेसबुक - योगी आदित्यनाथ

1

राबड़ी देवी को ‘अंगूठाछाप’ कहने पर रामविलास पासवान की पुत्री ने पिता से माफी की मांग की

लोजपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की बेटी आशा पासवान ने पिता द्वारा राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता राबड़ी देवी को ‘अंगूठाछाप’ कहने पर विरोध जताते हुए माफी की मांग की. आशा ने चेतावनी दी है कि अगर उनके पिता इसके लिए माफी नहीं मांगते तो महिलाओं के साथ वे पटना स्थित लोजपा के प्रदेश मुख्यालय के समक्ष धरना पर बैठेंगी. बिहार में आगामी लोकसभा चुनाव जदयू और भाजपा के साथ मिलकर लड़ने जा रहे पासवान ने शुक्रवार को एक प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान यह बात कही. इस दौरान उन्होंने राजगनीत केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को 10 फीसदी आरक्षण का विरोध करने को लेकर राजद पर निशाना साधा था. पासवान ने बिना नाम लिये कहा था कि वे (राजद) सिर्फ नारेबाजी करते हैं और एक अंगूठाछाप को मुख्यमंत्री बनाते हैं.

2

योगी आदित्यनाथ: अब सपा-बसपा को कायदे से ‘निपटाने’ में मदद मिलेगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-बसपा के गठबंधन पर कहा कि अच्छा है कि दोनों दल एक हो गये हैं, अब भाजपा को इन्हें कायदे से ‘निपटाने‘ में मदद मिलेगी. दिल्ली में आयोजित भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में महागठबंधन का बार-बार जिक्र किये जाने पर योगी ने कहा, ‘गठबंधन कोई चुनौती नहीं है. मैं सपा मुखिया अखिलेश यादव से पूछना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री के रूप में पिछली बार वह (सपा संस्थापक) मुलायम सिंह यादव को आगे कर रहे थे. वह स्पष्ट करें कि इस बार प्रधानमंत्री पद के लिये उनकी नजर में मुलायम हैं या बसपा प्रमुख मायावती.’ उन्होंने यहां तक कहा, ‘सपा और बसपा अलग-अलग पार्टी क्यों हैं, दोनों का विलय कर दीजिये.’

3

तीन तलाक पर केंद्र सरकार फिर से अध्यादेश लाई

फौरी तीन तलाक की प्रथा पर रोक लगाने एवं उसे दंडनीय अपराध बनाने के संबंध में सरकार एक बार फिर अध्यादेश लेकर आई है. सितंबर 2018 में जारी किए गए पिछले अध्यादेश को कानून की शक्ल देने के लिए लाया गया एक विधेयक लोकसभा से तो पारित हो गया था, लेकिन वह राज्यसभा में लंबित रहा. विधेयक को संसदीय मंजूरी नहीं मिलने के चलते नया अध्यादेश जारी किया गया है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले हफ्ते अध्यादेश को फिर से जारी करने की स्वीकृति दी थी. शनिवार को जारी मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) अध्यादेश, 2019 के तहत एक बार में तीन तलाक लेना गैरकानूनी, अवैधानिक होगा और पति को इसके लिए तीन साल की कैद हो सकती है. प्रस्तावित कानून के दुरुपयोग के डर को कम करने के लिए सरकार ने इसमें कुछ निश्चित सुरक्षा उपाय शामिल किए जैसे कि मुकदमे से पहले आरोपी की जमानत के प्रावधान को इसमें जोड़ा गया है.

4

जिग्नेश मेवानी: आरएसएस-भाजपा का मकसद एससी-एसटी का आरक्षण खत्म करना है

गुजरात के निर्दलीय विधायक एवं दलित नेता जिग्नेश मेवानी ने रविवार को कहा कि सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण मुहैया करने का केंद्र सरकार का फैसला जातिगत आरक्षण खत्म करने के आरएसएस- भाजपा के एजेंडे को साकार करने की दिशा में एक कदम है. मेवानी ने कोलकाता में कहा कि संविधान को खारिज करने और जाति आधारित आरक्षण को खत्म करने का आरएसएस- भाजपा का यह काफी समय से लंबित एजेंडा है. उनका यह भी कहना था कि सामाजिक और शैक्षणिक रूप से पिछड़े लोगों को प्रतिनिधित्व देने के लिए देश में आरक्षण की व्यवस्था लाई गई थी. इसका उद्देश्य गरीबी उन्मूलन करना नहीं था.

5

तीन हफ्ते से कामकाज ठप होने के चलते अमेरिकी अर्थव्यवस्था गर्त में पहुंची

अमेरिका में ठप पड़ा सरकारी कामकाज रविवार बीतने के साथ ही इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा बंद बन गया है. खबरों के मुताबिक हर गुजरते दिन के साथ विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को बड़ा नुकसान उठाना पड़ रहा है. अमेरिका में 1976 के बाद से अब तक 21 बार सरकारी कामकाज ठप पड़ चुका है. लेकिन, कभी आर्थिक वृद्धि पर उसका कोई खास असर देखने को नहीं मिला. इस बार बंदी की अवधि बढ़ जाने के चलते इसका आर्थिक वृद्धि पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है.  उधर, डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि यह अवरोध तभी खत्म होगा जब अमेरिकी सांसद मैक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने के लिए आर्थिक मदद को मंजूरी देंगे. उनके मुताबिक जब तक दीवार के बजट को मंजूरी नहीं मिलती तब तक वे सरकार के खर्च संबंधी बजट पर दस्तखत नहीं करेंगे. ट्रंप का कहना है कि देश में अवैध तौर पर प्रवेश करने वालों को रोकने के लिए इस दीवार का बनना जरूरी है.

  • श्रीलंका में बम धमाके

    समाचार | अख़बार

    श्रीलंका में बम धमाकों में 290 लोगों की मौत सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

    ब्यूरो | 1 घंटा पहले

    ऑनलाइन बैंकिंग

    ज्ञानकारी | अर्थव्यवस्था

    एनईएफटी ट्रांजैक्शन से जुड़ी पांच बातें जो आपको जाननी चाहिए

    ब्यूरो | 2 घंटे पहले

    नरेंद्र मोदी

    विचार | राजनीति

    पांच मौके जब चुनाव आयोग ने प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से नरेंद्र मोदी के प्रति नरम रुख अपनाया

    ब्यूरो | 4 घंटे पहले