रफाल लड़ाकू विमान

समाचार | बुलेटिन

केंद्र द्वारा रफाल पर पुनर्विचार याचिका लगाने वालों को देश के लिए खतरा बताए जाने सहित आज के पांच बड़े समाचार

रफाल विवाद | कर्नाटक | एयरपोर्ट | अमेरिका | क्रिकेट

ब्यूरो | 13 मार्च 2019

1

रफाल मामले में पुनर्विचार याचिका लगाने वालों ने देश की सुरक्षा खतरे में डाली है : केंद्र

केंद्र सरकार ने रफाल सौदे को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक नया हलफनामा दायर किया है. इसमें कहा गया है कि इस मामले में पुनर्विचार याचिकाएं लगाने वालों ने देश की सुरक्षा को खतरे में डाला है. सरकार के मुताबिक याचिकाकर्ताओं ने अदालत के सामने कुछ संवेदनशील दस्तावेज रखे हैं. उसका कहना है कि ये दस्तावेज रफाल लड़ाकू विमान की युद्धक क्षमताओं से जुड़े हुए हैं. सरकार के मुताबिक अवैध तरीके से हासिल किए गए इन दस्तावेजों के चलते अन्य देशों के साथ भारत के मैत्रीपूर्ण संबंधों पर भी बुरा असर पड़ा है. उसका ये भी कहना है कि याचिकाकर्ता आधे-अधूरे दस्तावेजों के आधार पर अदालत को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं. इस मामले में यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और प्रशांत भूषण याचिकाकर्ता हैं. सरकार के मुताबिक ये तीनों रफाल से जुड़े गोपनीय दस्तावजों को लीक करने के दोषी हैं.

2

कर्नाटक : कांग्रेस 20 और जेडीएस आठ सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी

कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच लोकसभा चुनाव को लेकर समझौता हो गया है. इसके तहत 20 सीटों पर कांग्रेस चुनाव लड़ेगी और बाकी आठ पर जेडीएस. राज्य की गठबंधन सरकार के दोनों दलों के बीच इस मुद्दे को लेकर काफी समय से खींचतान चल रही थी. जेडीएस 10 सीटें मांग रही थी, जबकि कांग्रेस उसे सिर्फ छह सीटें देने को तैयार थी. दोनों पार्टियां पहली बार मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं. बीते साल मई में हुए विधानसभा चुनाव में दोनों ने अलग-अलग चुनाव लड़कर बाद में हाथ मिला लिया था. कर्नाटक में 18 और 23 अप्रैल को दो चरणों में आम चुनाव होना है.

3

एयरपोर्ट पर यात्रियों को लंबी लाइनों से बचाने के लिए जल्द ही ई-टोकन सेवा शुरु होगी

एयरपोर्ट पर यात्रियों को लंबी लाइनों से बचाने के लिए जल्दी ही ई-टोकन सेवा की शुरुआत होगी. ये ई-टोकन बोर्डिंग पास की तरह काम करेंगे. इनके चलते यात्रियों को चेक इन काउंटरों पर लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा और वे सीधे सुरक्षा जांच संबंधी काउंटरों पर पहुंच सकेंगे. मोबाइल एप के जरिये मिलने वाले इन टोकनों की वैधता एक से तीन महीने की होगी. इस सेवा की शुरुआत दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे होगी. इसके बाद जल्द ही इसे अन्य हवाई अड्डों पर भी शुरू किया जाएगा. इससे यात्रियों का समय तो बचेगा ही, अधिकारी फर्जी, पुराने और रद्द टिकटों के साथ आने वाले लोगों को एयरपोर्ट में घुसने से भी रोक सकेंगे.

4

मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित न करना दक्षिण एशिया में शांति के खिलाफ होगा : अमेरिका

आतंकी संगठन जैश–ए-मोहम्मद के संस्थापक मसूद अज़हर को लेकर अमेरिका ने एक अहम बयान दिया है. इसमें कहा गया है कि अगर मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित नहीं किया गया तो ये दक्षिण एशिया की शांति और स्थिरता के ख़िलाफ़ होगा. अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट पैलेडीनो ने ये बात कही. उन्होंने कहा कि मसूद अज़हर को हर लिहाज से संयुक्त राष्ट्र की वैश्विक आतंकियों की सूची में डाला जा सकता है. अमेरिकी प्रवक्ता ने जैश के संस्थापक को दक्षिण एशिया में हुए कई आतंकी हमलों के लिए ज़िम्मेदार ठहराया. चीन बार-बार अपने वीटो अधिकार के जरिेये मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकियों की सूची में डालने संबंधी प्रस्ताव अटकाता रहा है.

5

आखिरी वनडे में भारत को 35 रनों से हराकर ऑस्ट्रेलिया का सीरीज पर कब्जा

आखिरी एकदिवसीय मैच में भारत को हराकर ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज 3-2 से अपने नाम कर ली है. बुधवार को दिल्ली के फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान पर हुए इस मुक़ाबले में उसने भारत को 35 रनों से हरा दिया. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत के सामने 273 रनों का लक्ष्य रखा था. लेकिन भारतीय टीम 237 पर ऑल आउट हो गई. ऑस्ट्रेलिया की जीत में उसके बल्लेबाज़ों उस्मान ख़्वाजा और पीटर हैंड्सकॉम्ब के साथ स्पिनर एडम ज़म्पा की भी अहम भूमिका रही. ख़्वाजा ने शतक जड़ा तो हैंड्सकॉम्ब ने अर्धशतक बनाया. वहीं ज़म्पा ने तीन अहम विकेट लिए. 2015 के बाद ये पहली बार है जब घरेलू मैदान पर भारतीय टीम कोई एकदिवसीय सीरीज हारी है. तब उसे दक्षिण अफ्रीका ने हराया था.

  • बिपिन चंद्र पाल

    समाचार | आज का कल

    बिपिन चंद्र पाल के निधन सहित 20 मई को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

    ब्यूरो | 3 घंटे पहले

    नरेंद्र मोदी

    समाचार | अख़बार

    एक्जिट पोल्स में एक बार फिर मोदी सरकार बनने सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

    ब्यूरो | 6 घंटे पहले

    मतदान

    समाचार | लोकसभा चुनाव

    लोकसभा चुनाव 2019 : सातवें चरण की पांच प्रमुख बातें

    ब्यूरो | 19 जून 2019