नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप

समाचार | बुलेटिन

कश्मीर मसले पर डोनाल्ड ट्रंप को नरेंद्र मोदी के दो टूक जवाब सहित आज के बड़े समाचार

डोनाल्ड ट्रंप | पी चिदंबरम | मायावती | मोदी सरकार | शेयर बाजार

ब्यूरो | 26 अगस्त 2019 | फोटो : पीआईबी

1

डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात में नरेंद्र मोदी की दो टूक, कहा – भारत-पाकिस्तान के बीच सभी मुद्दे द्विपक्षीय

फ्रांस में जी7 शिखर सम्मेलन के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खास मुलाकात की. इस दौरान नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर के सभी मुद्दे द्विपक्षीय हैं. प्रधानमंत्री का ये भी कहना था कि दोनों देश 1947 से पहले एक ही थे और वे अपनी समस्याएं खुद ही बातचीत करके सुलझा सकते हैं. नरेंद्र मोदी ने कहा कि वे किसी तीसरे देश को कष्ट नहीं देना चाहते. इस बैठक से पहले डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर पर मोदी सरकार के हालिया फैसले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच स्थिति विस्फोटक है. उनका ये भी कहना था कि जी7 शिखर सम्मेलन के दौरान वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस बारे में बात करेंगे. डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे को लेकर दोनों देशों के बीच मध्यस्थता की पेशकश भी की थी.

2

पी चिदंबरम की मुश्किलें जारी, सीबीआई हिरासत 30 अगस्त तक बढ़ी

पी चिदंबरम की मुश्किलें जारी हैं. अदालत ने उनकी सीबीआई हिरासत 30 अगस्त तक बढ़ा दी है. उधर, सुप्रीम कोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी द्वारा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कल तक के लिए रोक लगा दी है. जांच एजेंसी ने कहा था कि आईएनएक्स मीडिया मामले से जुड़े मनी लॉन्डरिंग के एक मामले में वो पूर्व वित्त मंत्री को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है. सीबीआई ने इस मामले में पी चिदंबरम को बीते हफ्ते गिरफ्तार किया था. ये मामला 2007 का है जब वे वित्त मंत्री थे. इस मामले में सीबीआई ने 15 मई 2017 में प्राथमिकी दर्ज की थी. इसमें आरोप लगाया गया है कि 305 करोड़ रुपये के विदेशी निवेश के लिए आईएनएक्स को दी गई मंजूरी में अनियमितताएं बरती गईं.

3

मायावती का कांग्रेस सहित पूरे विपक्ष पर निशाना, कहा – जम्मू-कश्मीर जाने की जिद करके विपक्ष के नेता भाजपा को मौका दे रहे हैं

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने राहुल गांधी समेत विपक्ष के दूसरे नेताओं के श्रीनगर जाने पर निशाना साधा है. आज एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि इन नेताओं का बिना अनुमति के जम्मू-कश्मीर जाना केंद्र और राज्यपाल को राजनीति करने का मौका देने जैसा है. मायावती का कहना था कि संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर भी जम्मू-कश्मीर के लिए अलग से अनुच्छेद 370 का प्रावधान करने के पक्ष नहीं थे. उनके मुताबिक इसीलिए उनकी पार्टी ने इसे हटाने के मोदी सरकार के फैसले का समर्थन किया. जम्मू-कश्मीर राज्य का विशेष दर्जा ख़त्म किए जाने के बाद विपक्ष बंटा हुआ दिखाई दे रहा है. कांग्रेस के अलावा डीएमके, टीएमससी और वाम सहित कई पार्टियां इसका विरोध कर रही हैं. लेकिन मायावती ने विपक्ष को चौंकाते हुए केंद्र सरकार के इस क़दम का समर्थन किया है.

4

केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोपित 22 और कर अधिकारियों को जबरन रिटायर किया

केंद्र सरकार ने कर विभाग के 22 और अधिकारियों को जबरन रिटायर कर दिया है. केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड ने ये जानकारी दी है. इन अधिकारियों पर गंभीर अनियमितताएं बरतने के आरोप थे. सरकार के इस कदम को कर विभाग से भ्रष्टाचार खत्म करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अभियान से जोड़ कर देखा जा रहा है. इसी के तहत कुछ समय पहले वित्त मंत्रालय से जुड़े भारतीय राजस्व सेवा के 27 अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया था. आयकर विभाग में भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए सरकार ने और भी कई कदम उठाए हैं. हाल में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की कि एक अक्टूबर से आयकर विभाग से सभी समन, नोटिस और आदेश सिर्फ कंप्यूटर सिस्टम के ज़रिये जारी होंगे.

5

शेयर बाजार ने तीन महीनों की सबसे बड़ी छलांग लगाई

मंदे चल रहे भारतीय शेयर बाजार ने आज बीते तीन महीनों में सबसे ऊंची छलाांग लगाई. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में 793 अंकों की बढ़त देखी गई. उधर, नेशनल स्टॉक एक्ससेंज का निफ्टी भी 228 अंकों की बढ़त के साथ बंद हुआ. ये बीती 20 मई के बाद इनका सबसे ऊंचा स्तर है. इसे पिछले शुक्रवार को की गईं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की विशेष घोषणाओं का असर माना जा रहा है. अर्थव्यवस्था में मंदी की आहट के बाद उन्होंने विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों पर लगाया गया टैक्स सरचार्ज या सुपर रिच टैक्स वापस लेने का ऐलान किया था. इसके अलावा भी वित्त मंत्री ने कारोबार जगत को आश्वस्त करते हुए बजट में किए गए कुछ प्रावधानों को वापस लेने की घोषणा की थी.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019