मॉनसून

समाचार | बुलेटिन

इस बार मॉनसून के देर से आने की संभावना जताए जाने सहित आज के पांच बड़े समाचार

मॉनसून | कोलकाता हिंसा | नरेंद्र मोदी | मायावती | पाकिस्तान

ब्यूरो | 15 जून 2019 | फोटो : विकिमीडिया कॉमन्स

1

इस बार मॉनसून के आने में थोड़ी देर की संभावना

मॉनसून इस बार थोड़ी देर से आएगा. भारतीय मौसम विभाग ने आज कहा कि इस बार ये छह जून को केरल पहुंचेगा. आम तौर पर ये तारीख एक जून होती है. इसके साथ ही देश भर में करीब चार महीने के बारिश के मौसम की शुरुआत हो जाती है. भारत में हर साल होने वाली बारिश का 70 फीसदी से ज्यादा हिस्सा मॉनसून से आता है. इससे पहले मौसम का हाल बताने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने चार जून को मॉनसून के केरल पहुंचने की भविष्यवाणी की थी. साथ ही, उसने इस साल औसत से कम बारिश का अनुमान भी जताया था. स्काइमेट के मुताबिक इस बार पूरे देश में मानसूनी बारिश औसतन 93 फ़ीसदी के आसपास रह सकती है. अगर ये आंकड़ा 96 से 104 फ़ीसदी के बीच होता है तो उसे सामान्य माना जाता है.

2

कोलकाता : अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा पर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में घमासान

कोलकाता में मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में घमासान जारी है. दोनों ही पार्टियों ने इसका आरोप एक-दूसरे पर लगाया है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि इस हिंसा के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस जिम्मेदार हैं. उनका ये भी कहना था कि अगर उन्हें सीआरपीएफ की सुरक्षा न मिली होती तो वे पश्चिम बंगाल से ज़िंदा वापस नहीं लौट पाते. अमित शाह ने हंगामे के दौरान 19वीं सदी के विख्यात समाज सुधारक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने का आरोप भी तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लगाया. उन्होंने कहा कि भाजपा देश भर में चुनाव लड़ रही है, लेकिन हिंसा सिर्फ पश्चिम बंगाल में हो रही है. अमित शाह के मुताबिक इससे साफ है कि तृणमूल के लोग ही हिंसा कर रहे हैं. उधर, भाजपा के आरोपों पर तृणमूल कांग्रेस ने भी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि अमित शाह पश्चिम बंगाल में बाहर से गुंडे लाए थे जिन्होंने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी.

3

कांग्रेस ने हार का ठीकरा फोड़ने के लिए सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर को खड़ा किया है : नरेंद्र मोदी

सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर की विवादास्पद टिप्पणियों के बहाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिर राहुल गांधी पर हमला बोला. झारखंड के देवघर में एक रैली में प्रधानमंत्री ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार तय है और इसीलिए उसने अपने मुखिया को बचाने के लिए दो बल्लेबाज़ खड़े किए हैं. नरेंद्र मोदी का कहना था कि चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन की जिम्मेदारी लेने का काम इन दोनों को सौंपा गया है. सैम पित्रोदा ने कुछ दिन पहले 1984 के सिख विरोधी दंगों पर कहा था, कि जो हुआ सो हुआ, लेकिन नरेंद्र मोदी ये बताएं कि उन्होंने पांच साल में क्या किया. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस बयान को शर्मनाक बताते हुए सैम पित्रोदा को देश से माफी मांगने कहा था. उधर, मणिशंकर अय्यर ने एक लेख में नरेंद्र मोदी के लिए दो साल पहले इस्तेमाल किए गए ‘नीच’ शब्द को जायज़ ठहराया था. कांग्रेस ने इस बयान से भी किनारा कर लिया था.

4

मायावती ने नरेंद्र मोदी की विरासत को देश पर काला धब्बा बताया

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला जारी है. बुधवार को उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की विरासत भाजपा और देश पर काला धब्बा है. मायावती का कहना था कि उनकी सरकार के वक्त उत्तर प्रदेश दंगों और अराजकता से मुक्त था, लेकिन गुजरात के मुख्यमंत्री और देश के प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी का कार्यकाल अराजकता, संकीर्णता, हिंसा, और नफरत से भरा रहा है. बसपा प्रमुख ने ये भी कहा कि जनहित और देशहित के मामले में वे बहुत फिट हैं और उनकी तुलना में नरेंद्र मोदी बहुत ज्यादा अनफिट हैं. इससे पहले भाजपा नेता अरुण जेटली ने मायावती को सार्वजनिक जीवन के लिए अनफिट बताया था. उन्होंने ये बात बसपा प्रमुख की उस टिप्पणी में जवाब में कही थी कि नरेंद्र मोदी ने सियासी फायदे के लिए अपनी पत्नी को छोड़ दिया.

5

पाकिस्तान : हाफ़िज़ सईद का साला और जमात उद दावा का दूसरा प्रमुख नेता अब्दुल रहमान मक्की गिरफ़्तार

पाकिस्तान में जमात उद दावा के मुखिया हाफ़िज़ सईद के साले और संगठन के दूसरे प्रमुख नेता अब्दुल रहमान मक्की को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसकी गिरफ्तारी पंजाब के गुजरांवाला कस्बे से तब हुई जब वो प्रतिबंधित संगठनों के ख़िलाफ़ सरकार की कार्रवाई का विरोध कर रहा था. बीते फरवरी में जमात उद दावा पर लगे प्रतिबंध के बाद अब तक इस संगठन के 100 से अधिक कार्यकर्ताओं को गिरफ़्तार किया गया है. सरकार ने इस संगठन द्वारा चलाए जा रहे स्कूलों, एम्बुलेंस सेवाओं और मस्जिदों को अपने नियंत्रण में ले लिया है. जमात उद दावा के मुखिया हाफिज सईद को वैश्विक आतंकी घोषित किया जा चुका है. उसे 2008 में हुए मुंबई हमले का मास्टरमाइंड भी कहा जाता है.

  • बीेजेपी-जेडीयू

    विचार | राजनीति

    भाजपा और जेडीयू के बीच चल रहे संघर्ष में ताजा रुझान क्या हैं?

    ब्यूरो | 13 जुलाई 2019

    गूगल लोगो

    समाचार | अख़बार

    गूगल द्वारा उपभोक्ताओं की बातचीत सुनने की बात स्वीकार किए जाने सहित आज के अखबारों की सुर्खियां

    ब्यूरो | 13 जुलाई 2019

    इंडिगो विमान

    विचार | व्यापार

    इंडिगो एयरलाइन के प्रमोटरों के बीच आखिर किस बात का झगड़ा है?

    ब्यूरो | 13 जुलाई 2019

    एचडी कुमारस्वामी

    समाचार | बुलेटिन

    कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी के विश्वासमत साबित करने के दावे सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 12 जुलाई 2019