तेज बहादुर यादव

समाचार | बुलेटिन

सपा द्वारा वाराणसी से जवान तेज बहादुर यादव को टिकट दिए जाने सहित आज के पांच बड़े समाचार

सपा-बसपा गठबंधन | लोकसभा चुनाव | नरेंद्र मोदी | रफाल मामला | श्रीलंका

ब्यूरो | 29 अप्रैल 2019 | फोटो : तेज बहादुर यादव / फेसबुक

1

सपा ने वाराणसी से बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव को टिकट दिया

उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन ने एक बड़ा फैसला लिया है. उसने वाराणसी लोकसभा सीट से प्रत्याशी बदलते हुए तेजबहादुर यादव को टिकट दे दिया है. यहां से पहले समाजवादी पार्टी की शालिनी यादव को उम्मीदवार बनाया गया था. पहले बीएसएफ में रहे तेज बहादुर यादव कुछ समय पहले अपने एक वीडियो से चर्चा में आए थे. इस वीडियो में उन्होंने आरोप लगाया था कि सैनिकों को दिए जाने वाले खाने की क्वालिटी बहुत खराब है. इस पर हंगामा होने के बाद उन्हें नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था. वाराणसी में अंतिम चरण में 19 मई को चुनाव होने हैं. पिछली बार यहां से नरेंद्र मोदी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी अरविंद केजरीवाल को साढ़े तीन लाख से भी ज्यादा वोटों से हराया था.

2

लोकसभा चुनाव का चौथा चरण खत्म, नौ राज्यों की 72 सीटों का फैसला

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में आज नौ राज्यों की 72 लोकसभा सीटों के लिए वोट डाले गए. महाराष्ट्र में सबसे ज़्यादा 17 सीटों के लिए वोटिंग हुई. उधर, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में 13-13 सीटों के लिए वोट डाले गए. इसके अलावा पश्चिम बंगाल की आठ, मध्य प्रदेश और ओडिशा की छह-छह, बिहार की पांच, झारखंड की तीन और जम्मू-कश्मीर की एक सीट के लिए मतदान हुआ. इस चरण में कुल मिलाकर 961 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला हुआ. इनमें सलमान खुर्शीद, गिरिराज सिंह, बाबुल सुप्रियो, कन्हैया कुमार, विजयंत पांडा, डिंपल यादव और उर्मिला मातोंडकर जैसे कई चर्चित नाम शामिल हैं. चुनाव आयोग के आंकडों के मुताबिक दोपहर तीन बजे तक पश्चिम बंगाल में करीब 66 फ़ीसदी वोटिंग हुई थी. सबसे कम वोटिंग जम्मू-कश्मीर में हुई. यहां तीन बजे तक महज 8.42 फ़ीसदी वोट डाले गए थे. अब अगले यानी पांचवें चरण में 6 मई को सात राज्यों की 51 सीटों पर वोटिंग होगी.

3

नरेंद्र मोदी और अमित शाह द्वारा आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार

सुप्रीम कोर्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा आचार संहिता के कथित उल्लंघन के मामले में सुनवाई के लिए तैयार हो गया है. कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने इस संबंध में अदालत में याचिका दायर की है. उनका आरोप है कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने लगातार आचार संहिता का उल्लंघन किया है और चुनाव आयोग उनकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा. सुष्मिता देव ने दावा किया कि 23 अप्रैल को गुजरात में चुनाव के दिन भी नरेंद्र मोदी ने एक रैली की जो आदर्श आचार संहिता का साफ उल्लंघन है. याचिका में शीर्ष अदालत से अपील की गई है कि वो आयोग को नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दे. सुप्रीम कोर्ट इस मामले में कल सुनवाई करेगा.

4

रफाल मामले में अपने बयान पर राहुल गांधी ने फिर सुप्रीम कोर्ट में सफाई दी

रफाल मामले में अपने बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट में सफाई दी है. उनकी तरफ से अदालत में आज एक नया हलफ़नामा दायर किया गया. इसमें उन्होंने अपने बयान पर खेद जताया है. कांग्रेस अध्यक्ष ने अपील की है कि उनके ख़िलाफ़ दायर अदालती अवमानना का मामला ख़त्म किया जाए. ये मामला भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी ने दायर किया है. राहुल गांधी ने इसे न्यायिक प्रक्रिया का दुरुपयोग बताया. साथ ही उन्होंने आऱोप लगाया कि ये मामला निजी राजनीतिक फ़ायदे के लिए दायर किया गया है. उनका ये भी कहना था कि उन्होंने जो बयान दिया वो चुनाव प्रचार की गर्मी में दिया गया था. राहुल गांधी का ये बयान तब आया था जब सुप्रीम कोर्ट ने रफाल मामले में अपने एक फैसले पर पुनर्विचार याचिका स्वीकार कर ली थी. इसके बाद उन्होंने नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था. राहुल गांधी ने कहा था कि अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार जी ने चोरी की है.

5

श्रीलंका में बुरके और हिज़ाब पर पाबंदी लगाई गई

श्रीलंका सरकार ने बुरके और हिज़ाब पर पाबंदी लगाने का ऐलान किया है. उसने आज इस बारे में एक अधिसूचना जारी की. इसके मुताबिक मुस्लिम महिलाओं को किसी भी तरह से चेहरा ढककर कहीं आने-जाने की इजाज़त नहीं दी जाएगी. राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने अपनी आपातकालीन शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए ये आदेश जारी किया है. सरकार के मुताबिक ये प्रतिबंध राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखकर लगाया गया है. उसने ये भी साफ किया है कि इसका मकसद किसी समुदाय के लिए असुविधा पैदा करना नहीं बल्कि सिर्फ़ राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करना है. श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में ढाई सौ से भी ज्यादा लोग मारे गए थे. इनकी जिम्मेदारी कुख्यात आतंकी संगठन आईएस ने ली है.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019