सुप्रीम कोर्ट

समाचार | बुलेटिन

राजनीतिक दलों को चुनावी बॉन्ड्स से मिले चंदे की जानकारी देने के आदेश सहित आज के पांच बड़े समाचार

सुप्रीम कोर्ट | सैन्य अधिकारी पत्र मामला | दिल्ली | रूस | पाकिस्तान

ब्यूरो | 12 अप्रैल 2019 | फोटो: विकीमीडिया कॉमन्स

1

पार्टियां चुनावी बॉन्ड्स के ज़रिये चंदा देने वालों की जानकारी दें : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने चुनावी बॉन्ड्स पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. शीर्ष अदालत ने राजनीतिक दलों को निर्देश दिया है कि वे इन बॉन्ड्स के ज़रिये मिले पैसे की विस्तृत जानकारी दें. इसमें चुनावी बॉन्ड्स के जरिये राजनीतिक चंदा देने वाले लोगों के नाम भी शामिल हैं. इसके लिए पार्टियों को 30 मई तक का वक्त दिया गया है. इन पार्टियों को ये जानकारी चुनाव आयोग को एक सील्ड लिफाफे में सौंपनी है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आयोग इस पैसे का हिसाब-किताब रखेगा. शीर्ष अदालत ने वित्त मंत्रालय को इन बॉन्ड्स को खऱीदने की समयावधि 10 से घटाकर पांच दिन करने का भी निर्देश दिया है. 10 दिन का ये वक्त अप्रैल-मई के लिए तय किया गया था. सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक वो ये सुनिश्चित करेगा कि चुनावी बॉन्ड्स के जरिये संतुलन अनावश्यक रूप से किसी एक पार्टी के पक्ष में न झुके.

2

कई पूर्व सैन्य अधिकारियों ने राष्ट्रपति को कोई पत्र न लिखने की बात कही

150 से अधिक सेना के पूर्व अधिकारियों द्वारा राष्ट्रपति को लिखी गई चिट्ठी का मामला विवादों में घिर गया है. इस चिट्ठी में सेना के राजनीतिकरण पर नाराज़गी ज़ाहिर की गई थी. खबरों के मुताबिक चिट्ठी पर जिन अधिकारियों के दस्तखत हैं उनमें तीनों सेनाओं के आठ पूर्व प्रमुख भी शामिल हैं. लेकिन कई अधिकारियों ने ऐसी किसी चिट्ठी पर दस्तखत करने की बात से इनकार कर दिया है. इनमें पूर्व सैन्य प्रमुख एसएफ रॉड्रिग्स और एयर चीफ मार्शल एनसी सूरी शामिल है. बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति भवन ने भी ऐसी कोई चिट्ठी मिलने से इनकार किया है. उधर, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस पूरे घटनाक्रम को निंदनीय बताया है. इससे पहले खबर आई थी कि पूर्व सैन्य अधिकारियों ने चिट्ठी में चुनाव प्रचार के दौरान सेना की वर्दी और सैनिकों की तस्वीरों के इस्तेमाल पर आपत्ति जताई है.

3

दिल्ली : कांग्रेस लोकसभा की सातों सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी

कांग्रेस ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन की संभावनाओं पर लगभग विराम लगा दिया है. पार्टी के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने शुक्रवार को ऐलान किया कि कांग्रेस अब दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर अकेले लड़ेगी. उन्होंने गठबंधन न हो पाने के लिए आम आदमी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को जिम्मेदार ठहराया. पीसी चाको ने कहा कि दोनों पार्टियों में ये सहमति बन गई थी कि आप चार सीटों पर लड़ेगी और कांग्रेस तीन सीटों पर, लेकिन इसके बाद आप नेतृत्व ने हरियाणा और पंजाब में भी गठबंधन की ज़िद की. पीसी चाको के मुताबिक कांग्रेस को ये मंजूर नहीं था क्योंकि उन राज्यों में समीकरण अलग हैं, और इसलिए फिर पार्टी ने अकेले ही मैदान में उतरने का फैसला किया. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि अगर अब भी आप कांग्रेस की बात मान ले तो गठबंधन हो सकता है.

4

रूस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान देने का ऐलान किया

रूस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द एपॉसल’ देने का फैसला लिया है. रूसी दूतावास ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर ये जानकारी दी. इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी को ये सम्मान भारत और रूस के बीच रणनीतिक साझेदारी को अभूतपूर्व तौर पर आगे बढ़ाने के लिए दिया गया है. इसी महीने संयुक्त अरब अमीरात ने भी नरेंद्र मोदी को अपने यहां के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से नवाज़ने का फैसला किया था. प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी को संयुक्त राष्ट्र का सर्वोच्च पर्यावरण सम्‍मान ‘चैंपियंस ऑफ अर्थ अवार्ड’ भी दिया जा चुका है. इसी साल फरवरी में उन्‍हें दक्षिण कोरिया ने सियोल शांति पुरस्कार से भी सम्‍मानित किया था.

5

पाकिस्तान : आत्मघाती धमाके में 20 लोगों की मौत

पाकिस्तान में हुए एक आत्मघाती बम धमाके में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई और 40 अन्य घायल हो गए. ये घटना बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा में हुई. स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक आतंकियों ने एक पुलिस वैन को निशाना बनाकर धमाका किया. मरने वालों में आठ हज़ारा समुदाय से हैं. ये एक शिया समुदाय है जिसे निशाना बनाकर पहले भी हमले किए जाते रहे हैं. पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग के मुताबिक 2012 से 2017 तक क्वेटा में हुए आतंकी हमलों में हज़़ारा समुदाय के 509 लोग मारे जा चुके हैं. उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस घटना की निंदा की है. उन्होंने अधिकारियों से इस घटना की रिपोर्ट भी मांगी है.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019