राहुल गांधी

समाचार | बयान

राहुल गांधी द्वारा वायनाड के बाढ़ से तबाह होने की बात कहे जाने सहित आज के बड़े बयान

एस जयशंकर | संबित पात्रा | अब्दुल बासित | राहुल गांधी | सत्यपाल मलिक

ब्यूरो | 12 अगस्त 2019 | फोटो: यूट्यूब

1

‘जम्मू-कश्मीर का मसला भारत का अंदरूनी मामला है.’ 

— एस जयशंकर, विदेश मंत्री

एस जयशंकर ने यह बात चीन में वहां के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई मुलाकात के दौरान धारा 370 को लेकर किए भारत सरकार के फैसले पर कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘इसका भारत की अंतरराष्ट्रीय सीमाओं और चीन से लगी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलओसी) से कोई संबंध नहीं है.’ इस मौके पर एस जयशंकर ने यह भी कहा, ‘द्विपक्षीय मतभेद विवादों में तब्दील नहीं होने चाहिए.’ साथ ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि आपस की ‘प्रमुख चिंताओं’ के प्रति संवेनशीलता पर दोनों देशों (भारत-चीन) के संबंधों का भविष्य निर्भर करेगा.

2

‘मैं राहुल गांधी के लिए विशेष विमान भेजूंगा ताकि वे कश्मीर आकर यहां की स्थिति का जायजा ले सकें.’ 

— सत्यपाल मलिक, जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल

सत्यपाल मलिक ने यह बात पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान राहुल गांधी के एक बयान की निंदा करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘राहुल गांधी जिम्मेदार व्यक्ति हैं और उन्हें ऐसी बात नहीं करनी चाहिए.’ उन्होंने आगे कहा, ‘विदेशी मीडिया ने कश्मीर की गलत रिपोर्टिंग करने का प्रयास किया है. हमने उन्हें चुनौती दी है कि अगर किसी को भी गोली लगी हो तो वे उसे साबित करें.’ इससे पहले बीते शनिवार, कश्मीर में हिंसा को लेकर आई खबरों पर राहुल गांधी ने सरकार से देश को वहां की वास्तविक स्थिति बताने की मांग की थी.

3

‘धारा 370 के प्रावधान हटाने का उद्देश्य जम्मू-कश्मीर का विकास है.’ 

— संबित पात्रा, भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता

संबित पात्रा ने यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिंदबरम द्वारा धारा 370 पर दिए एक बयान पर पलटवार करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘जहां तक कांग्रेस का संबंध है तो बीते 70 सालों के दौरान उसने हर चीज को हिंदू-मुसलमान के नजरिये से देखने की कोशिश की है. इसीलिए आज धारा 370 के अधिकांश प्रावधानों को हटाए जाने के मुद्दे को लेकर भी पी चिदंबरम कुछ ऐसा ही रुख अपना रहे हैं.’ इससे पहले पी चिदंबरम ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर अगर हिंदू बहुल राज्य होता तो भाजपा कभी वहां से धारा 370 न हटाती.

4

‘मेरा संसदीय क्षेत्र वायनाड बाढ़ से तबाह हो गया है.’ 

— राहुल गांधी, कांग्रेस के नेता

राहुल गांधी ने यह बात एक फेसबुक पोस्ट के जरिये कही. इसी पोस्ट से उन्होंने लोगों से वायनाड की बाढ़ पीड़ित जनता की मदद करने की अपील भी की. उन्होंने कहा, ‘मेरे संसदीय क्षेत्र में हजारों लोग बेघर हो गए हैं. उन्हें राहत शिविरों में पहुंचाया गया है. इनके लिए हमें तत्काल पानी की बोतलें, चटाई, कंबल, कपड़े, क्लोरीन, दंत मंजन वगैरह की जरूरत है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैं आप सभी से यहां के लोगों के लिए जिले में बनाए गए केंद्रों तक राहत सामग्री पहुंचाने की अपील करता हूं.’ इससे पहले राहुल गांधी ने वायनाड की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बात की थी.

5

‘कश्मीर पर पाकिस्तान को अपनी पुरानी नीति में बदलाव लाना होगा.’ 

— अब्दुल बासित, पाकिस्तान में भारत के पूर्व उच्चायुक्त

अब्दुल बासित ने यह बात एक ट्वीट के जरिये भारत की तरफ से जम्मू-कश्मीर पर बीते हफ्ते किए गए फैसलों पर कही. इसी ट्वीट से उन्होंने यह भी कहा, ‘जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय को अलग सेल बनाना चाहिए और उसका नेतृत्व विशेष राजनयिक सौंपा जाना.’ उन्होंने आगे कहा, ‘सही और प्रभावी कूटनीति के लिए संगठनात्मक संरचना बेहद जरूरी है.’ इसके साथ ही अब्दुल बासित का यह भी कहना था, ‘कश्मीर में पाकिस्तान अपनी राजनीतिक लड़ाई जारी रखे. साथ ही भारत यदि हदें पार करे तो युद्ध की तरफ बढ़ा जाए.’

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019