राजधानी एक्सप्रेस

समाचार | अख़बार

भारतीय ट्रेनों में चोरी का नया रिकॉर्ड बनने सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

अमर उजाला | नवभारत टाइम्स | हिंदुस्तान | द हिंदू | एशियन एज

ब्यूरो | 29 अप्रैल 2019 | फोटो: mumbailive.com

1

इंडोनेशिया : एक दिन में चुनाव संपन्न कराने की वजह से 272 कर्मियों की मौत, 1878 बीमार

इंडोनेशिया में एक दिन में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव संपन्न कराने का रिकॉर्ड मतदानकर्मियों पर भारी पड़ा है. अमर उजाला की खबर के मुताबिक इसकी वजह से 272 कर्मियों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. वहीं, 1878 अभी भी बीमार हैं. इसकी वजह दबावपूर्ण चुनावी प्रक्रिया की वजह से हुई थकान को माना जा रहा है. इंडोनेशिया में बीती 17 अप्रैल को राष्ट्रपति चुनाव के साथ ही संसदीय और क्षेत्रीय चुनावों को भी संपन्न कराया गया था. इसके लिए आठ लाख से अधिक मतदान केंद्र बनाए गए थे. साथ ही, मतदाताओं को पांच बैलेट पेपरों पर मुहर लगानी थी. कहा जा रहा है कि यह प्रक्रिया उन कर्मियों के लिए अधिक जानलेवा साबित हुई जिन्हें हाथों से बैलेट की गिनती करनी पड़ी. राष्ट्रपति पद के लिए विपक्षी उम्मीदवार प्रबोवो सुबिआंतो के एक प्रतिनिधि ने चुनाव आयोग पर काम के प्रबंधन को लेकर विफल होने का आरोप लगाया है.

2

बीते साल ट्रेनों में चोरी के रिकॉर्ड 36,584 मामले दर्ज

भारतीय रेलवे द्वारा सुरक्षा को अपनी प्राथमिकता बताए जाने के बाद भी ट्रेनों में चोरियां रुक नहीं रही हैं. नवभारत टाइम्स ने रेल मंत्रालय के हवाले से कहा है कि साल 2018 में चोरी के 36,584 मामले दर्ज किए गए. यह आंकड़ा पिछले 10 साल में सबसे ज्यादा है. इससे पहले साल 2017 में चोरी के 33,044 मामले सामने आए थे. वहीं, पिछले 10 वर्षों में रेलयात्रियों ने चोरी के 1.71 लाख मामले दर्ज कराए हैं. इन आंकड़ों के आधार पर माना जा रहा है कि तमाम दावों के बावजूद रेलवे अपने यात्रियों के सामान की सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था नहीं कर पाया है.

3

अब तक प्री-मानसून में 27 फीसदी की कमी, आगे सुधार की उम्मीद नहीं

देश में इस साल सामान्य बारिश के अनुमान के बीच प्री-मानसून कम रहा है. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक मार्च और अप्रैल में मानसून से पहले होने वाली बारिश में 27 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. वहीं, देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में 38 फीसदी कम बारिश हुई. इनके अलावा उत्तर-पूर्व में यह आंकड़ा 23 फीसदी और दक्षिण में 31 फीसदी रहा है. मौसम विभाग की मानें तो इन दो महीनों में पूरे देश में 59 मिलीमीटर बारिश होनी चाहिए थी, लेकिन केवल 43 मिलीमीटर बारिश हुई. विभाग का अनुमान है कि मई में भी प्री-मानसून में कमी बरकरार रहने की संभावना है. बताया जाता है कि मानसून से पहले बारिश में कमी का सर्वाधिक असर जल स्रोतों पर पड़ता है. साथ ही, गन्ना समेत कई फसलों पर भी इसका प्रतिकूल प्रभाव दिखता है.

4

गौतम गंभीर ने दो वोटर आईडी कार्ड रखने का आरोप खारिज किया

पूर्वी दिल्ली से भाजपा के उम्मीदवार गौतम गंभीर ने वोटर आईडी कार्ड को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) के आरोप को खारिज किया है. द हिंदू में प्रकाशित खबर के मुताबिक रविवार को उन्होंने कहा कि उनके पास केवल एक मतदाता पहचान पत्र है. गौतम गंभीर ने कहा, ‘मैं बचपन में अपने नाना-नानी के पास करोलबाग में रहता था. लेकिन, मैंने वहां से न तो कभी वोट डाला और न ही वोटर कार्ड के लिए अप्लाई किया.’ भाजपा प्रत्याशी ने आगे कहा कि ‘आप’ उन पर बेबुनियाद आरोप इसलिए लगा रही है कि उसके पास लोगों के लिए कोई विजन नहीं है. इससे पहले इस सीट से ‘आप’ उम्मीदवार आतिशी मार्लेना ने गौतम गंभीर पर दो जगहों के मतदाता पहचान पत्र रखने का आरोप लगाया था.

5

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कभी भी जातिवादी राजनीति नहीं की : अरुण जेटली

वरिष्ठ भाजपा नेता अरुण जेटली ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कभी भी जातिवादी राजनीति नहीं की है. द एशियन एज के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री की जाति की क्या अहमियत है? उन्होंने कभी जातिवादी राजनीति नहीं की है. उन्होंने हमेशा विकासवादी राजनीति की है. वे राष्ट्रवाद से प्रेरित हैं.’ हालांकि, इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के कन्नौज की एक जनसभा में कहा था, ‘मायावती जी, मैं बहुत पिछड़ा हूं. मैं दोनों हाथ जोड़कर कहता हूं कि मुझे जातिवादी राजनीति में न घसीटे. 130 करोड़ लोग मेरे परिवार हैं. जब तक मेरे विरोधियों ने मुझे नीच कहना शुरू नहीं किया था तब तक देश को मेरी जाति की जानकारी नहीं थी.’ इससे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि नरेंद्र मोदी पहले ऊंची जाति के थे, बाद में पिछड़ी जाति के बने.

  • इंटरनेट कम्प्यूटर सेक्योरिटी

    समाचार | इंटरनेट

    क्या आपको इंटरनेट की दुनिया में सुरक्षित रहना आता है?

    संजय दुबे | 01 अप्रैल 2020

    शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019