रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन

समाचार | अख़बार

पांच जुलाई को आम बजट सहित आज के अखबारों की पांच बड़ी खबरें

द टाइम्स ऑफ इंडिया | अमर उजाला | हिंदुस्तान | जनसत्ता | दैनिक जागरण

ब्यूरो | 01 मई 2019 | फोटो: पीआईबी

1

मोदी सरकार में मंत्रालयों का बंटवारा

नई केंद्र सरकार में मंत्रालयों का बंटवारा हो गया है. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक गुरुवार को राष्ट्रपति भवन के प्रवक्ता ने इसकी जानकारी दी. इसके मुताबिक अमित शाह को गृह मंत्रालय का प्रभार दिया गया है . वहीं, पूर्व गृह मंत्री राजनाथ सिंह रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे. इनके अलावा पूर्व रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को वित्त मंत्रालय सौंपा गया है. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ को मानव संसाधन विकास मंत्री बनाया गया है जबकि स्मृति ईरानी को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के साथ कपड़ा मंत्रालय की भी कमान सौंपी गई है.

2

2जी स्पेक्ट्रम मामला : ए राजा और कनिमोझी सहित अन्य आरोपितों को नोटिस जारी

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने टूजी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाला मामले में दायर अपीलों पर दिल्ली हाई कोर्ट से शीघ्र सुनवाई की मांग की है. एजेंसी का कहना है कि यह मामला राष्ट्रीय महत्व का है और इसका अंतरराष्ट्रीय प्रभाव है. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक सीबीआई ने निचली अदालत के फैसले के खिलाफ मार्च, 2018 में अपील दायर की थी. वहीं, हाई कोर्ट ने जांच एजेंसी की याचिका पर पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा, डीएमके सांसद कनिमोझी और अन्य आरोपितों को नोटिस जारी किया है. अदालत ने इस मामले की अगली सुनवाई की तारीख 30 जून को तय की है. इससे पहले निचली अदालत ने इस मामले के सभी आरोपितों को 21 दिसंबर, 2017 को बरी कर दिया था.

3

17 जून से संसदीय सत्र, पांच जुलाई को आम बजट

17वीं लोकसभा के पहले संसदीय सत्र की तारीखों का एलान कर दिया गया है. हिन्दुस्तान की खबर के मुताबिक इसकी जानकारी मोदी सरकार-2 की पहली कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दी. करीब 40 दिन चलने वाला यह सत्र 17 जून से शुरू होगा. वहीं, 19 जून को लोकसभा के नए अध्यक्ष का चुनाव होगा. इसके बाद 20 जून को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे. इस अभिभाषण को लेकर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के बाद चार जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण (2018-19) संसद के सामने रखा जाएगा. इसके अगले दिन केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण नई सरकार का पहला आम बजट पेश करेंगी.

4

गंगा में गंदगी को लेकर असंवेदनशीलता चिंता का विषय : एनजीटी

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने गंगा नदी को लगातार पहुंच रहे नुकसान को लेकर बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल की सरकारों को फटकार लगाई है. साथ ही, उसने इन सभी पर 25-25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है. जनसत्ता के मुताबिक प्राधिकरण का कहना है कि बिहार में एक भी सीवेज परियोजना पूरी नहीं हुई है. वहीं, पश्चिम बंगाल की 22 में से केवल तीन परियोजनाएं ही पूरी हुई हैं. इनके अलावा झारखंड में भी गंगा की साफ-सफाई को लेकर कोई प्रगति नहीं हुई. एनजीटी का कहना है कि एक गंभीर विषय को लेकर इस तरह की असंवेदनशीलता चिंता का विषय है. साथ ही, प्राधिकरण ने प्रदूषित जल को नदी में डालने को अपराध भी बताया.

5

सरकार न केवल मीडिया की स्वतंत्रता का महत्व समझती है बल्कि इसकी पक्षधर भी है : प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया की स्वतंत्रता को लोकतंत्र की मूल आत्मा बताया है. दैनिक जागरण में छपी खबर के मुताबिक गुरुवार को नई सरकार में अपने मंत्रालय का कामकाज संभालने के बाद उन्होंने यह टिप्पणी की. उन्होंने आगे कहा, ‘सरकार न केवल मीडिया की स्वतंत्रता का महत्व समझती है बल्कि, इसकी पक्षधर भी है.’ वहीं, उन्होंने कांग्रेस पर भी निशाना साधा. प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘स्वतंत्र भारत के इतिहास में प्रेस की आजादी पर केवल एक बार 1975 में आपातकाल के समय तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने कुठाराघात किया था. हमने अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी और जय प्रकाश नारायण के नेतृत्व में इसके खिलाफ लड़ाई लड़ी.’

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019