बंकिम चंद्र चटर्जी

समाचार | आज का कल

बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय के निधन सहित 08 अप्रैल को घटी पांच प्रमुख घटनाएं

भगत सिंह | बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय | लियाकत-नेहरू समझौता | पाब्लो पिकासो | मार्गरेट थैचर

ब्यूरो | 08 अप्रैल 2019

1

08 अप्रैल, 1929 को भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त ने दिल्ली स्थित सेंट्रल एसेंबली हॉल में बम फेंका था. इस बम धमाके का मकसद किसी को नुकसान पहुंचाना नहीं, बल्कि भारत के स्वतंत्रता आंदोलन की तरफ दुनिया का ध्यान आकर्षित करना था.

2

08 अप्रैल, 1894 को भारत के राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम् के रचयिता बंकिम चन्द्र चट्टोपाध्याय का कलकत्ता में निधन हुआ था. उन्होंने 13 उपन्यासों के साथ कहानी, धारावाहिक, निबंध जैसी कई साहित्यिक रचनाएं कीं जो अंग्रेजी और हिंदी सहित कई अन्य भारतीय भाषाओं में भी अनुवादित हुईं.

3

08 अप्रैल, 1950 को भारत और पाकिस्तान के बीच लियाकत-नेहरू समझौता हुआ था. यह समझौता दोनों देशों में रह रहे अल्पसंख्यकों के अधिकारों को सुरक्षित रखने और भविष्य में दोनों देशों के बीच युद्ध की संभावनाओं को खत्म करने के मकसद से किया गया था.

4

08 अप्रैल, 1973 को स्पेन के चित्रकार, मूर्तिकार, कवि और लेखक पाब्लो पिकासो का निधन हुआ था. इन्हें 20वीं शताब्दी का संभवत: सबसे प्रभावी चित्रकार और मॉर्डन आर्ट की शुरूआत करने वाला माना जाता है.

5

08 अप्रैल, 2013 को ब्रिटेन की पूर्व प्रधानमंत्री मार्गेरेट थैचर का लंदन में निधन. वह ग्रेट ब्रिटेन ही नहीं किसी भी यूरोपीय देश की पहली महिला प्रधानमंत्री थीं और 20वीं शताब्दी में ब्रिटेन की एकमात्र प्रधानमंत्री थीं, जिन्होंने तीन बार लगातार यह पद संभाला.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019