डोनाल्ड ट्रंप और इमरान खान

विचार और रिपोर्ट | विदेश

डोनाल्ड ट्रंप ने इमरान खान से कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता की बात क्यों कही होगी?

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के व्यवहार पर नजर रखने वाले जानकार उनके इस बयान के पीछे कई वजहें बताते हैं

ब्यूरो | 27 जुलाई 2019 | फोटो : The White House / twitter

1

बीते सोमवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ बातचीत के दौरान यह कहकर भारत को चौंका दिया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए उनकी मदद मांगी थी. डोनाल्ड ट्रंप के इस बयान को भारत ने सिरे से खारिज कर दिया. भारत ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने कभी भी कश्मीर पर मध्यस्थता के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति से ऐसी बात नहीं कही. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान के बाद यह सवाल उठ रहा है कि अगर नरेंद्र मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता की बात नहीं की तो फिर उन्होंने इमरान खान के सामने यह बात क्यों कही.

2

डोनाल्ड ट्रंप के इस बयान की वजह ज्यादातर जानकार उनकी अज्ञानता और बड़बोलेपन को बताते हैं. अमेरिकी अखबार फाइनेंसियल टाइम्स के संपादक एडवर्ड लुइस ट्विटर पर अपनी टिप्पणियों में लिखते हैं कि ‘इस विषय का अगर उन्हें जरा भी ज्ञान होता को वे ऐसा झूठ नहीं बोलते. उनके झूठ की वजह से उनकी सबसे महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं को नुकसान पहुंचा है. लेकिन अपने अपार घमंड के चलते वे इसे समझेंगे नहीं.’ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इससे पहले भी कई बार इस तरह के बयान दे चुके हैं. बीते हफ्ते ही उन्होंने आतंकी हाफिज सईद की गिरफ्तारी को लेकर एक ट्वीट किया था जिसे लेकर दुनिया भर में उनका मजाक उड़ा था. इसमें उन्होंने लिखा था कि अमेरिका के दबाव में दस साल की खोज के बाद हाफिज सईद को गिरफ्तार किया गया है.

3

वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद से अब तक 10 हजार 796 बार झूठ बोल चुके हैं. कई जानकारों को इस बात से काफी हैरानी होती कि ट्रंप आखिर कैसे इस तरह के झूठ बोल देते हैं जो कुछ ही मिनटों में पकड़े जा सकते हैं. उदहारण के तौर पर नवंबर 2017 में उन्होंने दावा किया कि टाइम मैगजीन की ओर से उन्हें ‘पर्सन ऑफ द इयर’ बनने का ऑफर दिया गया था जिसे उन्होंने ठुकरा दिया था. उनके इस दावे के चंद मिनटों बाद ही टाइम मैगजीन ने इसे सिरे से खारिज कर दिया और कहा डोनाल्ड ट्रंप झूठ बोल रहे हैं.

4

डोनाल्ड ट्रंप द्वारा सार्वजनिक तौर पर किसी के बारे में कुछ भी कह देने और दुनिया भर के नेताओं से अजीब व्यवहार करने के पीछे की एक और बड़ी वजह उनके घमंड को माना जाता है. जानकारों की मानें तो उन्हें शायद यह लगता है कि वे दुनिया के सबसे ताकतवर मुल्क के राष्ट्रपति हैं, ऐसे में उन्हें किसी से भी कुछ भी कहने का हक मिला गया है. बीती जनवरी में उन्होंने अफगानिस्तान में एक लाइब्रेरी बनवाने को लेकर मोदी का मजाक उड़ाया था. अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय में इस बात की चर्चा होती रही है कि ट्रंप अक्सर भारतीय लहजे में प्रधानमंत्री मोदी की नकल उतारते हैं. वाशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट में ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि राष्ट्रपति को नरेंद्र मोदी की नकल करने के लिए भी जाना जाता है. बीते साल फरवरी में अमेरिकी गवर्नरों को संबोधित करते हुए भी उन्होंने नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाया था.

5

लंबे समय से डोनाल्ड ट्रंप की गतिविधियों पर नजर रखने वाले जानकारों का यह भी मानना है कि बीते सोमवार को इमरान खान ने ट्रंप से बातचीत के दौरान जिस तरह से उनकी चापलूसी की उसकी वजह से भी डोनाल्ड ट्रंप कश्मीर पर ऐसा बयान दे बैठे. ये जानकार कहते हैं कि इमरान खान ने जब बार-बार अमेरिकी राष्ट्रपति से यह कहा कि वे दुनिया के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति हैं और वे ही कश्मीर मुद्दे को सुलझा सकते हैं. तब बड़बोले ट्रंप इमरान खान की चापलूसी में बह गए और न दिया जाने वाला बयान दे बैठे. विदेश मामलों के जानकारों की मानें तो डोनाल्ड ट्रंप जब से अमेरिका के राष्ट्रपति बने हैं, वे लगातार पाकिस्तान की आलोचना कर रहे हैं. उन्होंने पाकिस्तान को अमेरिका से मिलने वाली मदद भी बंद कर दी है. ऐसे में इमरान खान के लिए डोनाल्ड ट्रंप की चापलूसी करना मजबूरी बन गया था.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019