हवाई जहाज

ज्ञानकारी | विज्ञान

ज्यादातर विमान सफेद रंग के क्यों होते हैं

कुछ अपवादों को छोड़ दें तो लगभग हर विमान का रंग सफेद ही होता है और ऐसा किए जाने के पीछे कई वैज्ञानिक-आर्थिक वजहें काम करती हैं

ब्यूरो | 10 दिसंबर 2018 | फोटो: फ्लिकर

1

किसी विमान को पेंट करने में करीब ढाई सौ से पांच सौ किलोग्राम तक पेंट लगता है और शोध बताते हैं कि हल्के रंग जैसे सफेद या पीला गहरे रंगों जैसे नीले या लाल की तुलना में वजन में हल्के होते हैं. ऐसे में सबसे हल्का यानी सफेद रंग चुनने पर वजन में आने वाला मामूली फर्क भी विमान के मामले में बड़ा हो जाता है, जिससे ईंधन कम खर्च होता है. इसके अलावा किसी गहरे रंग में रंगने के लिए पहले एयरक्राफ्ट पर सफेद रंग का बेस लगाना जरूरी होता है. कई रंगों के कोट क्राफ्ट का वजन बढ़ाने का काम करते हैं. इसलिए उड़ान की लागत नियंत्रित करने के लिए इन्हें सफेद रंग में रंगा जाता है.

2

उड़ान के दौरान विमान के भीतर और बाहर का तापमान संतुलित बना रहे यह एक बड़ी चुनौती होती है. इस काम में सफेद रंग एक जरूरी भूमिका इसलिए निभाता है कि यह सूर्य से आने वाली सारी किरणों को पूरी तरह वापस लौटा देता है और गर्मी कम सोखता है जिससे विमान का तापमान संतुलित बना रहता है. इसके अलावा सैकड़ों फीट की ऊंचाई पर सफेद रंग की यह खूबी भी एयरक्राफ्ट को सूरज की रोशनी में मौजूद रेडिएशन से भी बचाती है.

3

सफेद रंग में पेंट होने के कारण विमान में होने वाली टूट-फूट और लीकेज भी आसानी से नज़र में आ जाती हैं. ऐसे में तुरत-फुरत उनकी मरम्मत की जा सकती है जो सुरक्षित उड़ान के लिहाज से बेहद जरूरी है.

4

कुछ वैज्ञानिक मानते हैं कि सफेद रंग का होने के चलते विमान की विजिबिलटी बढ़ जाती है और पक्षी उसे आसानी से देख सकते हैं. इस तरह पक्षियों के टकराने से होने वाली दुर्घटना की आशंका भी थोड़ी कम हो जाती है.

5

विमान कंपनियां जिस वजह पर सबसे ज्यादा जोर देती हैं, वो यह है कि सफेद पेंट करवाना किसी भी और रंग की तुलना में लाखों रुपए सस्ता पड़ता है. साथ ही एक ही रंग का होने के चलते कंपनियों के बीच विमानों की खरीद-बेच करने में भी आसानी बनी रहती है और केवल लोगो या थोड़ा-बहुत रंग-रौगन बदलने भर से काम हो जाता है.

सत्याग्रह की रिपोर्ट पर आधारित

  • शादी

    ज्ञानकारी | समाज

    पांच कानून जिनके दायरे में भारत में होने वाली ज्यादातर शादियां आती हैं

    ब्यूरो | 9 घंटे पहले

    रिलायंस प्रमुख मुकेश अम्बानी

    तथ्याग्रह | इंटरनेट

    क्या सच में रिलायंस जियो 555 रु वाला रीचार्ज मुफ्त में दे रही है?

    ब्यूरो | 30 नवंबर 2020

    अमित शाह, भाजपा

    विचार-रिपोर्ट | राजनीति

    तेलंगाना का एक नगर निगम चुनाव भाजपा के लिए इतना बड़ा क्यों बन गया है?

    अभय शर्मा | 30 नवंबर 2020

    सैमसंग गैलेक्सी एस20

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    सैमसंग गैलेक्सी एस20: दुनिया की सबसे अच्छी स्क्रीन वाले मोबाइल फोन्स में से एक

    ब्यूरो | 27 नवंबर 2020