टोटल धमाल में अजय देवगन और सोनाक्षी सिन्हा

मनोरंजन | सिनेमा

टोटल धमाल: ईमानदारी से रखते तो इसका नाम टोटल बोर होना चाहिए था

कलाकार: अजय देवगन, अनिल कपूर, माधुरी दीक्षित, अरशद वारसी, रितेश देशमुख, संजय मिश्रा, जावेद जाफरी | निर्देशक: इंद्र कुमार | रेटिंग : 1.5/5

ब्यूरो | 22 फरवरी 2019

1

बात पुरानी हो गई है, इसलिए पता नहीं कितने दर्शक इसे नोटिस करेंगे. असल में इंद्र कुमार की फिल्म ‘टोटल धमाल’ पूरी तरह से इस फ्रेंचाइजी की 2007 में आई पहली फिल्म ‘धमाल’ की ही कहानी को दोबारा दिखाती-सुनाती है. सारे घटनाक्रम और चुटकुले भले ही नए सिरे से लिखे गए हैं लेकिन इसका चरमराता ढांचा हूबहू 11-12 साल पुरानी उस कहानी वाला ही है.

2

‘टोटल धमाल’ में भी ‘धमाल’ की तरह एक मरता हुआ आदमी 50 करोड़ रुपयों का राज कुछ मूर्ख और चालू पात्रों को बता जाता है. इसके बाद ये सभी हीरो व हीरोइन ‘धमाल’ की तरह ही आपस में लड़ते-झगड़ते हुए इस खजाने को खोजने निकलते हैं. लेकिन बदकिस्मती से यह भी असरदार नहीं हैं. इसलिए अगर आपकी याददाश्त में आज भी इंद्र कुमार की पुरानी फिल्म जिंदा है, तो मानकर चलिए कि ‘टोटल धमाल’ देखते हुए आप यह सवाल खुद से जरूर पूछेंगे – आखिर इन दिनों हिंदुस्तानियों को कौन ज्यादा ठग रहा है – नेता या सिनेमा?

3

‘टोटल धमाल’ में व्हाट्सएप पर आने वाले चुटकुलों के स्तर के कई जोक्स हैं तो निर्देशक साजिद खान के स्तर की सिचुएशन्स हैं. कहना न होगा कि इन पर कपिल शर्मा और ‘भाबीजी घर पर हैं’ की दोहराव वाली कॉमेडी पसंद करने वाले दर्शक ही हंसेंगे. कुछ सिचुएशन्स और चुटकुले सच में मजेदार हैं भी तो वे यदा-कदा ही फिल्म में आते हैं. इसलिए टोटल धमाल ज्यादातर वक्त टोटल बोर ही करती है.

4

अभिनय की बात करें तो ज्यादातर अभिनेता आलस्य से भरपूर अभिनय करते हैं. गोलमाल और मस्ती जैसी फ्रेंचाइजी फिल्मों में जैसा अभिनय अजय देवगन से लेकर अरशद वारसी और रितेश देशमुख कई-कई बार कर चुके हैं, उसे ही वे टोटल धमाल में भी दोहराते हैं.

5

दर्जन भर के करीब एक्टरों के बीच केवल अनिल कपूर और माधुरी दीक्षित को ही फिल्म में देखना अच्छा लगता है. हालांकि ये उनके स्तर की फिल्म नहीं है, लेकिन लाउड गुजराती और मराठी पति-पत्नी के रोल में उनकी नोकझोंक आपको पसंद आएगी.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019