मिशन मंगल में अक्षय कुमार और विद्या बालन

मनोरंजन | सिनेमा

मिशन मंगल: एक ऐसी ‘स्पेस फिल्म’ जिसमें साइंस को कम और मनोरंजन को ज्यादा ‘स्पेस’ दिया गया है

कलाकार: अक्षय कुमार, विद्या बालन, नित्या मेनन, तापसी पन्नू, | निर्देशक: जगन शक्ति | लेखक: जगन शक्ति और आर बाल्की | रेटिंग: 3/5

ब्यूरो | 17 अगस्त 2019

1

इसरो ने बहुत कम लागत में मंगलयान बनाकर दुनिया को चौंकाया था और इसकी इसी खासियत को ‘मिशन मंगल’ अपनी यूएसपी बनाती है. किस तरह से कम बजट, सीमित संसाधनों और हजारों मुश्किलों के बाद भी भारतीय वैज्ञानिकों ने मंगल तक पहुंचने की राह बनाई थी,  फिल्म इसका एक काल्पनिक रूपांतरण आपको दिखाती है.

2

सैकड़ों लोगों द्वारा किए गए काम को महज सात-आठ किरदारों के जरिए दिखाते हुए फिल्म कई बार लॉजिक से जरा दूर लगती है. कुछ मौकों पर गैरजरूरी ट्विस्ट और किरदार भी इसमें शामिल होते हैं. इसके अलावा, जरूरत से थोड़ी ज्यादा देशभक्ति और जोशीले संवाद पूरी फिल्म के दौरान आते रहते हैं. मतलब कि फिल्म बॉलीवुड मार्का छाप लेकर ही चलती है. लेकिन अच्छी बात ये है कि इसकी पूरी भरपाई इसका रोचक क्लाइमैक्स कर देता है.

3

अभिनय पर आएं तो अक्षय कुमार हमेशा की तरह कामचलाऊ अभिनय करते हैं. वहीं, सबसे ज्यादा वक्त स्क्रीन पर नज़र आने वाली विद्या बालन यहां पर ‘तुम्हारी सुलू’ का साइंटिस्ट वर्जन पेश करती हैं. उनके अभिनय में आपके कोई खोट नज़र नहीं आता लेकिन नयापन भी नहीं दिखता है.

4

दक्षिण से आए एचजी दत्तात्रेय और नित्या मेनन को जितनी गुंजाइश मिलती है उतने में ही ये बढ़िया अभिनय आपकी नज़र करते हैं. शरमन जोशी खूब हंसाते तो हैं लेकिन उनका किरदार भी ‘थ्री इडियट्स’ के राजू रस्तोगी का एक्सटेंशन ही लगता है. इनके अलावा कीर्ति कुल्हारी, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा ने भी अपनी भूमिकाएं विश्वसनीयता से निभाई हैं.

5

‘मिशन मंगल’ के जरिए जगन शक्ति ने बतौर निर्देशक डेब्यू किया है. उनके साथ मिलकर इस फिल्म की पटकथा मशहूर लेखक-निर्देशक आर बाल्की ने लिखी है. लंबे समय से बाल्की के साथ काम कर रहे जगन ने उनसे काफी कुछ सीखा होगा. यह बात मिशन मंगल से भी साबित होती है.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019