मर्द को दर्द नहीं होता में अभिमन्यु दासानी

मनोरंजन | सिनेमा

मर्द को दर्द नहीं होता: लंबे वक्त के बाद आई एक बेहतरीन एक्शन फिल्म

लेखक-निर्देशक : वासन बाला | कलाकार : अभिमन्यु दासानी, राधिका मदान, महेश मांजरेकर, जिमित त्रिवेदी, गुलशन देवैया | रेटिंग : 3/5

ब्यूरो | 22 मार्च 2019

1

साल 2016 में ‘रमन राघव 2.0’ जैसी डार्क-साइकोलॉजिकल थ्रिलर लिखने वाले वासन बाला ने ‘मर्द को दर्द नहीं होता’ का लेखन और निर्देशन किया है. इस फिल्म में उन्होंने अपना कहानी कहने का स्टाइल तो मार्वल की ‘डेडपूल’ सरीखा रखा है लेकिन संवाद, ड्रामा, एक्शन और ट्विस्ट खांटी बॉलीवुड फिल्मों वाले हैं.

2

सत्तर-अस्सी के दशक की एक्शन फिल्मों की तमाम खासियतें यहां पर आसानी से पहचानी जा सकती हैं. जैसे बचपन वाली मोहब्बत, एक अच्छा और एक बुरा दिखाए गए दो जुड़वां भाई, हवा में उड़-उड़कर किया जाने वाला एक्शन और एक लॉकेट, जिसके इर्द-गिर्द कई ट्विस्ट चक्कर लगाते हैं.

3

इसके बावजूद, नायक का अनोखापन फिल्म को लंबे समय बाद आई बढ़िया एक्शन फिल्म साबित कर देता है. बचपन से ही दर्द को महसूस न कर पाने की दुर्लभ बीमारी से ग्रस्त नायक का एक्शन देखते हुए आप कई बार नाखून कुतरने वाली मुद्रा में आ सकते हैं.

4

गुजरे जमाने की अभिनेत्री भाग्यश्री के बेटे अभिमन्यु दासानी ने इस फिल्म से डेब्यू किया है. यहां पर वे एक्शन फिल्मों के दीवाने, एक मासूम से युवक का बढ़िया अभिनय करते हैं और नज़र टिकाकर देखे जाने वाला एक्शन भी दिखाते हैं. दूसरी तरफ फिल्म की नायिका राधिका मदान मारधाड़ में उन्हें टक्कर देने के साथ कई परतों वाले गहरे एक्सप्रेशंस देकर और भी ज्यादा नंबर बटोर लेती हैं.

5

इन सबके साथ दिलचस्प-चटपटे संवाद, अनूठे बोलों और सुरीले संगीत वाले गाने भी इस एक्शन फिल्म की खासियतें हैं. यहां पर वासन बाला के कुछ फ्रेम्स अपनी खूबसूरती तो कुछ अपने दोहराव के चलते ध्यान खींचते हैं. इस तरह सुपरहीरो वाली ये सुपरकथानुमा फिल्म कई बार पढ़ी गई पसंदीदा कॉमिक्स जैसा मजा देती है और इसी के लिए देखी भी जानी चाहिए.

  • शाओमी रेडमी के-20 प्रो

    खरा-खोटा | मोबाइल फोन

    शाओमी रेडमी के20 प्रो: एक ऐसा स्मार्टफोन जिसकी डिजाइन और कीमत सबसे ज्यादा आकर्षित करते हैं

    ब्यूरो | 08 सितंबर 2019

    ह्वावे लोगो

    विचार और रिपोर्ट | तकनीक

    अमेरिका की नीतियों से जूझ रहे ह्वावे को क्या उसका नया ऑपरेटिंग सिस्टम राहत दे सकता है?

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    महबूबा मुफ्ती

    समाचार | बुलेटिन

    महबूबा मुफ्ती की बेटी को उनसे मिलने की इजाजत दिए जाने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 05 सितंबर 2019

    भारतीय उच्चायोग

    समाचार | बुलेटिन

    कश्मीर को लेकर ब्रिटेन में भारतीय उच्चायोग पर पथराव होने सहित आज के बड़े समाचार

    ब्यूरो | 04 सितंबर 2019